मुख्यमंत्री ने सिरमौर जिला के शिलाई क्षेत्र में विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 31, 2022   17:42
मुख्यमंत्री ने सिरमौर जिला के शिलाई क्षेत्र में  विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए

मुख्यमंत्री ने कहा कि शिलाई और सराज क्षेत्र में न केवल भौगोलिक रूप से समानता है, बल्कि यह क्षेत्र समान परम्परा, संस्कृति और विकास सम्बन्धी आवश्यकताओं को भी साझा करते हैं। उन्होंने कहा कि इस कार्यकाल के दौरान प्रदेश सरकार ने क्षेत्र की सभी विकासात्मक आवश्यकताओं की पूर्ति सुनिश्चित की है।

शिमला । मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज सिरमौर जिले के शिलाई विधानसभा क्षेत्र के एक दिवसीय दौरे के दौरान लगभग 20 करोड़ रुपये लागत की विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए

इसे भी पढ़ें: नवसंवत् में सत्ता परिवर्तन और किसी बड़े नेता का अपदस्थ होना तय--शशिपाल डोगरा

कफोटा के पब गांव में जनसभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि शिलाई और सराज क्षेत्र में न केवल भौगोलिक रूप से समानता है, बल्कि यह क्षेत्र समान परम्परा, संस्कृति और विकास सम्बन्धी आवश्यकताओं को भी साझा करते हैं। उन्होंने कहा कि इस कार्यकाल के दौरान प्रदेश सरकार ने क्षेत्र की सभी विकासात्मक आवश्यकताओं की पूर्ति सुनिश्चित की है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के कारण वर्तमान सरकार के दो वर्ष प्रभावित हुए हैं, इसके बावजूद राज्य का निर्बाध विकास सुनिश्चित किया है। 

इसे भी पढ़ें: सुरेश भारद्वाज ने केन्द्रीय रेल मंत्री से भेंट की

जय राम ठाकुर ने कहा कि देश के चार राज्यों में हाल ही में हुए चुनावों के बाद प्रदेश में कांग्रेस नेतृत्व की स्थिति दयनीय है। भाजपा ने इन सभी राज्यों में भारी जनादेश से जीत हासिल की है और प्रदेश के लोगों ने हिमाचल में भी भाजपा सरकार को पुनः सत्ता में लाने का मन बना लिया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं के पास राज्य सरकार के विरूद्ध कोई मुद्दा नहीं है और वे आपस में लड़ने और पार्टी में ही अपना वर्चस्व साबित करने में व्यस्त हैं। 

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री ने डॉ. राजेन्द्र प्रसाद चिकित्सा महाविद्यालय टांडा में 80 लाख रुपये से स्थापित डायलिसिस इकाई का लोकार्पण किया

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने अपने पिछले कार्यकाल के दौरान प्रदेश के विकास और लोगों के कल्याण के लिए कुछ नहीं किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने जनकल्याण के लिए एक भी योजना आरम्भ नहीं की, जबकि वर्तमान राज्य सरकार ने गरीबों और पिछड़े वर्गों के कल्याण के लिए कई योजनाएं शुरू की हैं। उन्होंने कहा कि इस वर्ष जरूरतमंद लोगों के लिए सामाजिक सुरक्षा पेंशन पर 1300 करोड़ रुपये व्यय किए गए, जबकि कांग्रेस कार्यकाल के दौरान केवल 400 करोड़ रुपये व्यय किए गए थे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना, मुख्यमंत्री हिमकेयर, मुख्यमंत्री सहारा योजना, मुख्यमंत्री स्वावलम्बन योजना और मुख्यमंत्री शगुन योजना जैसी अनेक योजनाएं प्रदेश के लोगों के लिए वरदान साबित हो रही हैं।

जय राम ठाकुर ने कहा कि देश को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रूप में मजबूत नेतृत्व प्राप्त हुआ है और अब देश एक वैश्विक शक्ति के रूप में उभरा है तथा दुनिया भारत की ताकत से अवगत हुई है। उन्होंने राज्य के लोगों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सहयोग करने का आग्रह किया ताकि भारत आगामी वर्षों में विश्व गुरु के रूप में उभर सके। उन्होंने कहा कि सिरमौर जिले के ट्रांस गिरी क्षेत्र को जनजातीय क्षेत्र घोषित करने का मामला राज्य सरकार ने प्रभावी ढंग से केंद्रीय गृह मंत्री के समक्ष व्यक्तिगत रूप से उठाया है। उन्होंने कहा कि वह हाटी समुदाय के प्रतिनिधिमंडल के साथ पुनः केंद्रीय गृह मंत्री से मिलेंगे, ताकि क्षेत्र को जनजातीय क्षेत्र का दर्जा मिल सके।

मुख्यमंत्री ने सतौन में डिग्री कॉलेज खोलने, कफोटा में चिकित्सा खंड, बालीकोटी और हलाह में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कामरो को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में स्तरोन्नत करने, काहरका और शिल्ली अगाद में स्वास्थ्य उप केंद्र खोलने, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जाखना में 10 बिस्तर उपलब्ध करवाने की घोषणा की। उन्होंने इस अवसर पर क्षेत्र के कुछ स्कूलों के स्तरोन्नयन की भी घोषणा की। उन्होंने क्षेत्र की सम्पर्क सड़कों के लिए पर्याप्त धन राशि की व्यवस्था करने, सतौन में उप-तहसील खोलने तथा कफोटा में मुद्रिका बस चलाने की भी घोषणा की। उन्होंने कफोटा डिग्री कॉलेज का नाम स्वामी विवेकानंद तथा डिग्री कॉलेज शिलाई को वीर सावरकर के नाम पर नामित करने की भी घोषणा की। उन्होंने इस अवसर पर जाखना में स्पोर्ट्स हॉस्टल आरम्भ करने तथा आयोजन स्थल पाब मैदान के लिए 10 लाख रुपये देने की भी घोषणा की।

इस अवसर पर विभिन्न सामाजिक, राजनीतिक संगठनों, हाटी समिति कफोटा तथा अन्य संगठनों ने भी मुख्यमंत्री को सम्मानित किया।

सांसद एवं प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुरेश कश्यप ने वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए प्रस्तुत बजट में विभिन्न कल्याणकारी योजनाएं आरम्भ करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि पिछले चार वर्षों के दौरान सिरमौर जिले में अभूतपूर्व विकास हुआ है।

 राज्य नागरिक आपूर्ति निगम के उपाध्यक्ष बलदेव तोमर ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए शिलाई क्षेत्र के लिए करोड़ों रुपये की विकासात्मक परियोजनाएं समर्पित करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि लगभग पचास वर्षों तक इस क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कांग्रेस करती रही, फिर भी यह क्षेत्र विकास से वंचित रहा और वर्तमान राज्य सरकार ने इस क्षेत्र का चहुंमुखी विकास सुनिश्चित किया है। उन्होंने इस अवसर पर मुख्यमंत्री द्वारा स्वीकृत विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं के संबंध में भी जानकारी साझा की। उन्होंने कहा कि आज मुख्यमंत्री द्वारा समर्पित डिग्री कॉलेज विद्यार्थियों, विशेषकर क्षेत्र की लड़कियों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने में मील पत्थर साबित होगा। उन्होंने केंद्रीय नेतृत्व के समक्ष ट्रांस गिरी क्षेत्र को जनजातीय क्षेत्र का दर्जा देने का मामला उठाने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक मांगों को भी विस्तृत रूप से मुख्यमंत्री के समक्ष रखा।

ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी, नाहन के विधायक एवं पूर्व विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल, पच्छाद की विधायक रीना कश्यप, राज्य कृषि विपणन बोर्ड के अध्यक्ष बलदेव भंडारी, सिरमौर जिला भाजपा अध्यक्ष विनय गुप्ता, शिलाई भाजपा मंडल के अध्यक्ष सूरत सिंह चौहान, सिरमौर जिला परिषद की अध्यक्ष सीमा कनियाल, उपायुक्त सिरमौर आर.के. गौतम, पुलिस अधीक्षक ओमापति जम्वाल सहित अन्य गणमान्य भी इस अवसर पर उपस्थित थे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।