कांग्रेस ने पुलिस पर महिला स्वास्थ्यकर्मियों के खिलाफ अत्याचार करने का आरोप लगाया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 27, 2022   09:26
कांग्रेस ने पुलिस पर महिला स्वास्थ्यकर्मियों के खिलाफ अत्याचार करने का आरोप लगाया
google free license

उत्तराखंड महिला कांग्रेस नेताओं ने मंगलवार को हाल में नौकरी से हटाए जाने पर आंदोलन कर रहे संविदा स्वास्थ्यकर्मियों का समर्थन करते हुए आरोप लगाया कि सोमवार को मुख्यमंत्री आवास की ओर शांतिपूर्ण तरीके से कूच कर रहे आंदोलनकारियों पर पुलिस ने अत्याचार किए।

देहरादून। उत्तराखंड महिला कांग्रेस नेताओं ने मंगलवार को हाल में नौकरी से हटाए जाने पर आंदोलन कर रहे संविदा स्वास्थ्यकर्मियों का समर्थन करते हुए आरोप लगाया कि सोमवार को मुख्यमंत्री आवास की ओर शांतिपूर्ण तरीके से कूच कर रहे आंदोलनकारियों पर पुलिस ने अत्याचार किए।

इसे भी पढ़ें: भाई की शादी में जा रही महिला की कार खाई में गिरी, तीन की मौत

यहां एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में गढवाल क्षेत्र की प्रदेश मीडिया प्रभारी गरिमा दसौनी माहरा और प्रवक्ता सुजाता पॉल ने आरोप लगाया कि सोमवार को पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प के दौरान पुलिसकर्मियों ने एक गर्भवती स्वास्थ्यकर्मी को उसके पेट में लात मारी और एक दूसरी महिला स्वास्थ्यकर्मी का हाथ इतनी जोर से पकडा कि उसकी हडडी टूट गयी।

इसे भी पढ़ें: वह एक बुरे सपने में जी रहे हैं विराट कोहली, IPL 2022 में स्टार खिलाड़ी की लगातार खराब फॉर्म पर बोले आकाश चोपड़ा

पॉल ने पूछा, कोविड 19 के समय अपनी जिंदगी को जोखिम में डाल कर लाखों लोगों की जान बचाने वाले कोरोना योद्धाओं के साथ इस प्रकार का व्यवहार किया जाना उचित है। क्या यह उत्तराखंड की संस्कृति है। हाल में प्रदेश में 2200 संविदा स्वास्थ्यकर्मियों को नौकरी से हटा दिया गया था। इसका विरोध कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों और पुलिस के बीच सोमवार को संघर्ष हो गया था।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।