• हिमाचल में कांग्रेस के पास नहीं बचे नेता, प्रचार के लिए बाहर से बुलाने पड़ रहे ,वीरभद्र सिंह के निधन के बाद नेता बनने की लगी है कांग्रेस में होड़-जयराम ठाकुर

सीएम ने कहा कि कांग्रेस की प्रत्याशी ने कारगिल युद्ध को लेकर जो बयान दिया है, वह दुख देने वाला है। उन्होंने कारगिल युद्ध को छोटा सा युद्ध बता दिया। कारगिल युद्ध में हिमाचल के 52 सैनिकों ने शहादत दी। ऐसे में इन हल्की टिप्पणियों से सेना का जवान ही नहीं, आम इंसान भी आहत होता है।

तत्तापानी।। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने करसोग के तत्तापानी में मंगलवार को बीजेपी प्रत्याशी खुशाल ठाकुर के पक्ष में तीसरी जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि मंडी लोकसभा से बीजेपी की ओर से ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर चुनाव लड़ रहे हैं। उन्हें जीताकर केंद्र में नरेंद्र मोदी सरकार को और मजबूत करिए। हमने वो प्रत्याशी मैदान में उतारे हैं जिन्होंने कारगिल का युद्ध लड़ा और पाकिस्तानियों को खदड़ने का काम किया।

सीएम ने कहा कि कांग्रेस की प्रत्याशी ने कारगिल युद्ध को लेकर जो बयान दिया है, वह दुख देने वाला है। उन्होंने कारगिल युद्ध को छोटा सा युद्ध बता दिया। कारगिल युद्ध में हिमाचल के 52 सैनिकों ने शहादत दी। ऐसे में इन हल्की टिप्पणियों से सेना का जवान ही नहीं, आम इंसान भी आहत होता है।

इसे भी पढ़ें: करसोग में गरजे सीएम जयराम ठाकुर, कांग्रेस पर तीखे प्रहार कहा हिमाचल में कांग्रेस के पास नहीं बचे नेता, बाहर से बुलाने पड़ रहे प्रचारक

मुख्यमंत्री ने कहा, “बीजेपी ने उपचुनाव के लिए अपने स्टार प्रचारकों में हिमाचल के ही नेताओं को शामिल किया। हमारे स्टार प्रचारक में शांता कुमार, प्रेम कुमार धूमल, अनुराग ठाकुर शामिल हैं। कांग्रेस ने अपनी पार्टी के लिए कन्हैया कुमार और नवजोत सिंह सिद्धू को स्टार प्रचारक बनाया। कन्हैया कुमार पर देशद्रोह का मामला दर्ज हुआ। उस व्यक्ति पर आरोप लगे कि भारत तेरे टुकड़े होंगे जैसे नारे लगाए। ऐसे व्यक्ति को कांग्रेस ने हिमाचल में स्टार प्रचारक बना दिया गया। हिमाचल में इनके पास नेता ही नहीं बचे। 

जयराम ठाकुर ने कहा, “जब से वीरभद्र सिंह नहीं रहे, तब से कांग्रेस में नेता बनने की होड़ लगी है। सब कोशिश में लगे हैं कि ज्यादा जोर से कौन बोल सकता और केंद्र में बीजेपी की सरकार है। मुख्यमंत्री ने कहा, “आज की मंडी बदली हुई मंडी है। बीजेपी के प्रत्याशी ने नॉमिनेशन दाखिल किया, हमने जनसभा में कुछ नहीं कहा। उससे अगले दिन कांग्रेस का नॉमिनेशन था, वहां उन्होंने हमें गालियां निकाली। लेकिन मंडी के लोगों को वो बात पसंद नहीं आई। कांग्रेस ने यदि विकास किया है तो अपने विकास के कार्य गिनवाएं। हमने सब्र रखा है। हम कुछ नहीं कह रहे हैं।"

इसे भी पढ़ें: कोविड सुरक्षा नियमों को ध्यान में रखते हुए चिंतपूर्णी मंदिर परिसर में किया जा सकेगा हवन - डी सी ऊना

सीएम ने कहा, “हमारी सरकार बनी तो हमने बदले की भावना से होने वाली राजनीति की प्रथा को समाप्त कर दिया। इसलिए हमने गरीबों के लिए कार्य करने की कोशिश की। हमने 70 साल से ऊपर के सभी बुजुर्गों को पेंशन दी। 65 साल के ऊपर सभी माताओं और बहनों को पेंशन दी। गरीब आदमी के मुफ्त इलाज के लिए हिमकेयर योजना चलाई।”

इसे भी पढ़ें: राज्यपाल ने कांगड़ा जिला केशक्तिपीठ नगरकोट धाम माता वज्रेश्वरी मंदिर में माथा टेका

जयराम ठाकुर ने कहा कि कोविड में हम जिंदगी बचा रहे थे, विपक्ष राजनीति चमका रहा था। जयराम ठाकुर ने कहा, “कोविड काल में हमने एक-एक जिंदगी को बचाने की कोशिश की, लेकिन हम कई सारी जिंदगियों को नहीं बचा सके। इसकी हमें बहुत पीड़ा है। मगर आज वैक्सीनेशन में  हिमाचल देशभर में नंबर वन है। इस दौरान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सरकार के कार्य गिनवाते हुए कहा कि हमने  करसोग को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने का काम किया। जहां पर लोगों ने पीएचसी मांगी, वहां पीएचसी दी गई। जहां पर लोगों ने अन्य कार्यालय की डिमांड रखी, उसे भी पूरा किया गया।

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने पूर्व सांसद को याद करते हुए कहा, “रामस्वरूप शर्मा का तत्तापानी का बहुत बड़ा लगाव था। वो अक्सर यहां आकर शनिदेव की पूजा करते थे। मंडी को भी उन्होंने छोटी काशी कहकर प्रसिद्ध किया। सरलता, सहजता उनके स्वभाव का हिस्सा था। वो मंडी से सबसे बड़े मार्जन से जीते जो आज तक का सबसे बड़ा रिकॉर्ड है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पार्टी ने ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर को उम्मीदवार बनाया है और मुझे पूरा विश्वास है कि आप सभी इन्हें रिकॉर्ड वोटों से विजयी बनाकर दिल्ली भेजेंगे।