कांग्रेस का 'PayCM' कैंपेन, सिद्धारमैया-सुरजेवाला ने बोम्मई के खिलाफ चिपकाए पोस्टर, CM ने सबूत पेश करने की दी चुनौती

PayCM
ANI
अभिनय आकाश । Sep 23, 2022 7:43PM
पार्टी के राज्य प्रमुख डीके शिवकुमार, एलओपी सिद्धारमैया और सांसद रणदीप सिंह सुरजेवाला सहित कांग्रेस नेताओं ने आज शाम बेंगलुरु में सीएम बसवराज बोम्मई के खिलाफ 'पेसीएम' के पोस्टर चिपकाए।

कर्नाटक में बसवराज बोम्मई के मुख्यमंत्रित्व काल में कथित रूप से हुए विभिन्न संभावित घोटालों के संबंध में सोशल मीडिया पर तथाकथित 'पेसीएम' अभियान का एक और दौर शुरू हो गया है। कांग्रेस की तरफ से पोस्टर और स्क्रीनशॉट के जरिये राज्य में भारतीय जनता पार्टी सरकार को भ्रष्टाचार के आरोपों के साथ निशाना साधने के लिए कैंपेन चला रही है। राज्य की राजधानी बेंगलुरु के कुछ हिस्सों में दीवारों पर चिपकाए गए 'PayCM' के पोस्टर के साथ ही कांग्रेस ने 'PayCM' स्क्रीनशॉट की एक सीरिज जारी की, जिसमें नकद, 40 प्रतिशत कमीशन, पीएसआई घोटाला सहित विभिन्न घोटालों के बारे में बताया गया है।

इसे भी पढ़ें: आईएस से जुड़े आरोपियों ने भारत में खलीफा शासन की स्थापना के लिए काम किया: कर्नाटक पुलिस

पार्टी के राज्य प्रमुख डीके शिवकुमार, एलओपी सिद्धारमैया और सांसद रणदीप सिंह सुरजेवाला सहित कांग्रेस नेताओं ने आज शाम बेंगलुरु में सीएम बसवराज बोम्मई के खिलाफ 'पेसीएम' के पोस्टर चिपकाए। बाद में उन्हें हिरासत में लिया गया। हिरासत में लिए जाने के बाद कर्नाटक एलओपी सिद्धारमैया ने कहा कि हां, यह ('PayCM' पोस्टर विरोध) पूरे राज्य में जारी रहेगा। यह कांग्रेस पार्टी द्वारा इस "40% भ्रष्टाचार सरकार" के खिलाफ एक अभियान है। वहीं कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि वे पुलिस के डंडे और क्रूरता के माध्यम से शासन करना चाहते हैं। यह भ्रष्ट सरकार है। बोम्मई सरकार के भ्रष्टाचार ने उनको खुद ही जनता के सामने बेनकाब कर दिया है। वह दिन दूर नहीं जब लोग बोम्मई सरकार को उखाड़ कर अरब सागर में फेंक देंगे।

इसे भी पढ़ें: 10 दिनों की मैराथन सुनवाई के बाद हिजाब विवाद पर सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला रखा सुरक्षित

कांग्रेस के 'पेसीएम' पोस्टर ड्राइव पर कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि कोई भी आरोप सही नहीं है। उन्होंने कोई सबूत नहीं दिया है। यह सब राजनीति से प्रेरित है। मैंने उन्हें सबूत पेश करने की चुनौती दी है। उनके (कांग्रेस) कार्यकाल में कई घोटाले हुए जिनकी जांच की जानी चाहिए।

अन्य न्यूज़