ACS सुलेमान का विवादित बयान, कहा- स्वास्थ्य विभाग का काम लाशें गिनना नहीं

ACS सुलेमान का विवादित बयान,   कहा- स्वास्थ्य विभाग का काम लाशें गिनना नहीं

ACS से सवाल पूछा गया कि क्या कोरोना काल के दौरान मौत की संख्या छुपाई गई। जिसके बाद उन्होंने जवाब दिया कि डेड बॉडीज गिनना स्वास्थ्य विभाग का काम नहीं है। ये किसी और का काम है और सही जवाब के‌ लिए सवाल उन्हीं से किया जाना चाहिए।

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना से मौतों की संख्या को लेकर स्वास्थ्य विभाग के एसीएस मोहम्मद सुलेमान ने फिर एक विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग का काम लाशें गिनना नहीं है, बल्कि मरीज गिनना है।

दरअसल सुलेमान ने राजधानी भोपाल में हो रहे लिटरेचर फेस्टिवल में आईएएस अफसर तरुण पिथोड़े की किताब पर चर्चा के दौरान यह विवादित बयान दिया। ACS से सवाल पूछा गया कि क्या कोरोना काल के दौरान मौत की संख्या छुपाई गई। जिसके बाद उन्होंने जवाब दिया कि डेड बॉडीज गिनना स्वास्थ्य विभाग का काम नहीं है। ये किसी और का काम है और सही जवाब के‌ लिए सवाल उन्हीं से किया जाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें:भोपाल में गिरफ्तार हुए आतंकियों की बढ़ रिमांड, कोर्ट ने 8 अप्रैल तक भेजा जेल 

वहीं कांग्रेस ने सरकार पर निशाना साधते हुए एसीएस से इस्तीफा तक देनें की मांग कर डाली। यूथ कांग्रेस के मीडिया अध्यक्ष ने कहा कि मौत के आंकड़े नहीं दे पा रहे हैं तो इस्तीफा दे दें। उन्होंने कहा कि अपर मुख्य सचिव ने कमलनाथ के आरोपों को सच साबित कर दिया। उन सभी परिवारों के साथ मेरी हमदर्दी  है जिनका मजाक सुलेमान साहब उड़ा रहे है। ACS सुलेमान सिर्फ अधिकारी होने का गलत फायदा उठा रहे है। 

वहीं बीजेपी ने इसपर पलटवार किया है। बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि हमारा काम था मरीजों को प्राथमिकता से इलाज देना। कांग्रेस को लाशें मुबारक हो।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।