उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस से 30 और लोगों की मौत, 3578 नये मामले

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जुलाई 27, 2020   20:18
उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस से 30 और लोगों की मौत, 3578 नये मामले

अपर मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने सोमवार को पत्रकारों को यह जानकारी देते हुए बताया कि इस महामारी के 3578 नये मामले सामने आने के बाद मामलों की कुल संख्या 70,493 हो गई हैं।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटो में कोविड-19 से 30 और रोगियों की मौत हो गयी जिससे मृतकों की संख्या बढ़कर 1456 पहुंच गयी है। अपर मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने सोमवार को पत्रकारों को यह जानकारी देते हुए बताया कि इस महामारी के 3578 नये मामले सामने आने के बाद मामलों की कुल संख्या 70,493 हो गई हैं। सोमवार की शाम को जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार कोविड-19 के राजधानी लखनऊ में 312 नये मामले, कानपुर नगर 248, प्रयागराज में 162, वाराणसी 146, शाहजहांपुर 139, गाजीपुर 130, जौनपुर 116, तथा बरेली में 114 नये मामले सामने आये हैं।

बुलेटिन के मुताबिक लखनऊ में कोविड-19 से छह रोगियों की मौत, कानपुर नगर में पांच, झांसी में तीन और प्रयागराज में दो मरीजों की मौत हुई है। इसके अलावा कई जनपदों में एक-एक रोगी की मौत हुई है। इसके अनुसार इस समय प्रदेश सक्रिय संक्रमण के मामले 26,204 है जबकि 42,833 रोगी स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके है। राज्य में 26,227 रोगी पृथक वार्ड में भर्ती है। इससे पहले प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में जांच का कार्य तेजी से किया जा रहा है। 

इसे भी पढ़ें: भाजपा पर हमलावर हुए हरीश रावत, जुबानी जंग में कहा-केंद्र सरकार विपक्ष को नष्ट करने पर आमादा

उन्होंने बताया कि प्रदेश में रविवार को एक नया कीर्तिमान स्थापित करते हुए एक दिन में 1,06,962 नमूनों की जांच की गयी, जिसमें 3.5 प्रतिशत लोग ही संक्रमित पाये गये। उन्होंने बताया कि एक दिन में एक लाख से अधिक नमूनों की जांच करने वाला उत्तर प्रदेश पहला राज्य है। इस प्रकार कोविड-19 की जांच में 19 लाख का आंकड़ा पार करते हुए प्रदेश में अब तक 19,41,259 नमूनों की जांच की गयी है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।