• बहुचर्चित व्यापम पुलिस आरक्षक भर्ती परीक्षा घोटाला में कोर्ट ने सुनाई 4 आरोपियों को सजा

सुयश भट्ट Sep 23, 2021 11:53

व्यापम घोटाला 2013 में तब सामने आया था जब इंदौर पुलिस ने 2001 की पीएमटी प्रवेश से जुड़े केस में 20 नकली अभ्यर्थियों को गिरफ्तार किया था।

भोपाल। मध्य प्रदेश के बहुचर्चित व्यापम पुलिस आरक्षक भर्ती परीक्षा घोटाला 2012 मामले में सीबीआई कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है। जानकारी के मुताबिक 4 दोषी करार आरोपियों को कोर्ट ने बुधवार को 7-7 की सजा सुनाई है।

इसे भी पढ़ें:चर्चित व्यापम पुलिस आरक्षक भर्ती परीक्षा के घोटाले में 8 आरोपियों को कोर्ट ने माना दोषी 

आपको बता दें कि बुधवार को सीबीआई कोर्ट में 9 आरोपियों के खिलाफ चालान पेश हुआ था। जिसमें से कोर्ट ने 5 आरोपियों को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया है। जबकि वहीं 4 को दोषी ठहराया है। दोषी बनाए गए आरोपियों में 3 परीक्षार्थी और 1 प्रतिरुपक शामिल हैं।

इसे भी पढ़ें:चर्चित व्यापम पुलिस आरक्षक भर्ती परीक्षा के घोटाले में 8 आरोपियों को कोर्ट ने माना दोषी, होगी 7 साल की सजा 

दरअसल व्यापम घोटाला 2013 में तब सामने आया था जब इंदौर पुलिस ने 2001 की पीएमटी प्रवेश से जुड़े केस में 20 नकली अभ्यर्थियों को गिरफ्तार किया था। बताया जा रहा है कि साल 2013 में डॉक्टर जगदीश सागर के पकड़े जाने के बाद इस मामले की परतें खुलती चली गई थी। वहीं आरोप लगा था कि कई लोग असली अभ्यर्थियों की जगह पर परीक्षा देने आए थे।