कैप्टन ने डीजीपी को दिया निर्देश, अवैध गतिविधियों में शामिल पुलिसकर्मियों से सख्ती से निपटें

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jun 7 2019 4:16PM
कैप्टन ने डीजीपी को दिया निर्देश, अवैध गतिविधियों में शामिल पुलिसकर्मियों से सख्ती से निपटें
Image Source: Google

एक आधिकारिक बयान के मुताबिक, मुख्यमंत्री ने कहा कि दोषी पुलिस अधिकारियों को किसी भी कीमत पर नहीं बख्शा जाना चाहिए। अमरिंदर ने राज्य के महाधिवक्ता से वरिष्ठ न्यायविदों की एक समिति बनाने को कहा जो पुलिस कर्मियों को व्यावहारिक प्रशिक्षण देगी, ताकि वे अदालतों में अपने मुकदमों को प्रभावी तरीके से पेश कर सकें।

चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शुक्रवार को राज्य के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) को निर्देश दिया कि वह मादक पदार्थ तस्करों की मदद करने वाले अधिकारियों के खिलाफ सख्ती से निपटें। अमरिंदर ने मादक पदार्थों की समस्या से निपटने के लिए गठित विशेष कार्य बल (एसटीएफ) के प्रमुख से भी कहा कि वह ऐसे पुलिस अधिकारियों, खासकर जो राज्य के सीमाई जिलों में तैनात है, की पहचान कर सख्त कार्रवाई करें।

इसे भी पढ़ें: CM अमरिंदर के साथ जारी खींचतान के बीच बदला गया सिद्धू का विभाग

यहां एसटीएफ की एक उच्च-स्तरीय बैठक की अध्यक्षता करते हुए मुख्यमंत्री ने पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता को सख्त निर्देश दिए कि वह अवैध गतिविधियों में शामिल पुलिसकर्मियों से सख्ती से निपटें। उन्होंने अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजीपी) और एसटीएफ प्रमुख गुरप्रीत कौर देव को सभी सीमाई जिलों में एसटीएफ की दो टीमें बनाने के लिए कहा। यह टीमें मादक पदार्थों की समस्या खत्म करने के लिए संबंधित पुलिस अधिकारियों से करीबी तालमेल बिठाकर काम करेंगे।

इसे भी पढ़ें: अमरिंदर ने पत्र लिखकर PM मोदी से की अपील, बोले- राष्ट्रीय स्तर पर किसानों का कर्ज करें माफ



एक आधिकारिक बयान के मुताबिक, मुख्यमंत्री ने कहा कि दोषी पुलिस अधिकारियों को किसी भी कीमत पर नहीं बख्शा जाना चाहिए। अमरिंदर ने राज्य के महाधिवक्ता से वरिष्ठ न्यायविदों की एक समिति बनाने को कहा जो पुलिस कर्मियों को व्यावहारिक प्रशिक्षण देगी, ताकि वे अदालतों में अपने मुकदमों को प्रभावी तरीके से पेश कर सकें। मुख्यमंत्री ने मादक पदार्थों के सेवन की लत से जूझ रहे लोगों और उनके परिजन से अपील की कि वे आगे आएं और सरकार द्वारा संचालित नशामुक्ति एवं पुनर्वास केंद्रों में उपलब्ध कराए जा रहे अच्छे उपचार का लाभ उठाएं तथा निजी क्षेत्र के विवेकहीन तत्वों के झांसे में नहीं आएं।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video