दिल्ली बीजेपी चीफ बोले, प्रदूषण एवं अधिक बिजली बिल के खिलाफ लगातार जारी रखेंगे संघर्ष

 Delhi BJP
मालवीय नगर प्रखंड प्रशिक्षण कार्यक्रम में हिस्सा लेते हुये गुप्ता ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर भी हमला बोला और कहा कि सरकार का बजट 60 हजार करोड़ रुपये का है लेकिन कोई नहीं जानता है कि यह धन कहां खर्च होता है जबकि दिल्ली के लोगों की समस्याओं का समाधान नहीं हो रहा है।

नयी दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा है कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के लोगों के समक्ष उत्पन्न बिजली के अधिक बिल एवं पर्यावरण जैसी समस्याओं के खिलाफ भाजपा अपना संघर्ष जारी रखेगी। इससे पहले गुप्ता ने शनिवार को यहां प्रखंड स्तरीय कार्यकर्ता प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरूआत की। मालवीय नगर प्रखंड प्रशिक्षण कार्यक्रम में हिस्सा लेते हुये गुप्ता ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर भी हमला बोला और कहा कि सरकार का बजट 60 हजार करोड़ रुपये का है लेकिन कोई नहीं जानता है कि यह धन कहां खर्च होता है जबकि दिल्ली के लोगों की समस्याओं का समाधान नहीं हो रहा है। राष्ट्रीय राजधानी ​दिल्ली के 32 प्रखंडों में इस दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू किया गया जिन्हें 80 पार्टी नेताओं ने संबोधित किया जिसमें पार्टी की विचाराधारा, सोशल मीडिया का इस्तेमाल और आत्म निर्भर भारत के सिद्धांतों तथा दिल्ली के महत्वपूर्ण स्थानीय मुद्दों पर चर्चा हुयी। 

इसे भी पढ़ें: सामान्य जल आपूर्ति बहाल करने के लिए युद्धस्तर पर काम कर रहा है दिल्ली जल बोर्ड: राघव चड्ढा

गुप्ता ने बताया कि पार्टी का लक्ष्य सत्ता में आना नहीं बल्कि लोगों की सेवा करना है जैसा कि इसने लॉकडाउन की अवधि में किया जबकि पार्टी सत्ता में भी न हीं थी। उन्होंने कहा, लॉकडाउन के दौरान प्रधानमंत्री के आह्वान पर बिना किसी भेद—भाव एवं राजनीति के पार्टी कार्यकर्ताओं ने दिल्ली के हर गरीब एवं जरूरतमंद लोगों की सेवा की। उन्होंने कहा कि दिल्ली के लोग अब भी समस्याओं का सामना कर रहे हैं। इसमें बिजली के बड़ा बिल और बढ़ता प्रदूषण शामिल है और भारतीय जनता पार्टी के कार्यकता इन मुद्दों का समाधान होने तक केजरीवाल सरकार के खिलाफ अपना संघर्ष जारी रखेंगे। रविवार को कार्यक्रम के दूसरे दिन पार्टी के 100 नेता प्रशिक्षण कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। दिल्ली भाजपा के मीडिया प्रकोष्ठ के प्रमुख नवीन कुमार ने बताया कि राजधानी के सभी 280 प्रखंडों में 22 नवंबर तक चरणबद्ध तरीके से प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़