पंजाब दौरे के दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल आज जत्थेदार सेखवां से मिलने गुरदासपुर जायेंगे

 Jathedar Sekhwan
आम आदमी पार्टी के के पंजाब प्रभारी राघव चड्ढा ने केजरीवाल के दौरे की जानकारी देते हुए बताया कि अरविंद केजरीवाल गांव सेखवां (गुरदासपुर) में पूर्व मंत्री जत्थेदार सेवा सिंह सेखवां से मुलाकात करेंगे। सेवा सिंह सेखवां शिरोमणि अकाली दल के संस्थापक सदस्यों में शामिल रहे हैं।

अमृतसर ।  पंजाब कांग्रेस में चल रहे घमासान के बीच आज आम आदमी पार्टी सुप्रीमों दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पंजाब दौरे पर आ रहे है। केजरीवाल के दौरे को लेकर पंजाब में खासी गहमागहमी है। केजरीवाल  पूर्व अकाली नेता सेवा सिंह सेंखवां से आज मिलेंगे। यही वजह है कि दोनों नेताओं के बीच होने वाली मुलाकात को लेकर सबकी नजरें है।

दरअसल , आम आदमी पार्टी ने पहले ही घोषणा कर रखी है कि अगली बार सीएम का दावेदार सिक्ख चेहरा होगा।  इसी की खोज में पार्टी लगी है। पंजाब इन दिनों विधानसभा चुनाव 2022 के रंग में रंगा हुआ है। अपने अपने तरीके से पार्टियां लगी हैं।  आम आदमी पार्टी भी इसी जुगत में है।

आम आदमी पार्टी के के पंजाब प्रभारी राघव चड्ढा ने केजरीवाल के दौरे की जानकारी देते हुए बताया कि अरविंद केजरीवाल गांव सेखवां (गुरदासपुर) में पूर्व मंत्री जत्थेदार सेवा सिंह सेखवां से मुलाकात करेंगे। सेवा सिंह सेखवां शिरोमणि अकाली दल के संस्थापक सदस्यों में शामिल रहे हैं।

आम आदमी पार्टी के नेता हरजोत सिंह बैंस ने कहा कि उनके आज गुरूवार को 12 बजे अमृतसर पहुंचने का कार्यक्रम है और वह एयरपोर्ट से सीधा गुरदासपुर के काहनूवान में सेवा सिंह सेखवां के घर पहुंच रहे हैं। यहां दोनों के बीच शिष्टाचार मुलाकात होगी। इसके बाद का प्रोग्राम अभी नहीं आया है। बैंस ने कहा कि सेखवां से केजरीवाल की मीटिंग क्यों हो रही है ये नहीं पता है।

इस मुलाकात में कौन कौन शामिल होंगे इस पर भी खुलासा नहीं किया गया है। सूत्रों के मुताबिक कल की मुलाकात का उद्देश्य आगामी चुनावों में साथ मिलकर लडऩे और समर्थन लेने का है। 

दरअसल, जत्थेदार सेखवां शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल से इनदिनों नाराज चल रहे हैं। उल्लेखनीय है कि अरविंद केजरीवाल पहले ही कह चुके हैं कि आम आदमी पार्टी की तरफ से किसी सिख को ही सीएम पद का उम्मीदवार बनाया जाएगा। इसलिए कल की मुलाकात काफी अहम मानी जा रही है।  

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़