दिल्ली कंटेनमेंट जोन में डोर-टू-डोर सर्वे का काम 6 जुलाई तक होगा पूरा

delhi
पिछले हफ्ते सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी की पूरी आबादी का कोरोना वायरस के संक्रमण के संदर्भ में सर्वेक्षण करने का फैसला किया था और इसे पूरा करने के लिए छह जुलाई की समय सीमा तय की थी।

नयी दिल्ली। केंद्र ने सोमवार को कहा कि दिल्ली में कोरोना वायरस से संक्रमण के मामलों की वजह से घोषित निषिद्ध क्षेत्रों में घर-घर जाकर सर्वेक्षण का काम छह जुलाई तक पूरा कर लिया जाएगा और इसके बाद पूरे शहर में यह प्रक्रिया दोहाई जाएगी। दिल्ली सरकार के अधिकारी ने बताया कि प्रशासन ने अबतक निषिद्ध क्षेत्र के 3.68 लाख घरों का सर्वेक्षण किया है और दावा किया कि यह प्रक्रिया पूरी होने वाली है। 

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की प्रधानमंत्री से मुलाकात, केन्द्र से हरसंभव सहायता का मिला आश्वासन

उल्लेखनीय है कि पिछले हफ्ते सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी की पूरी आबादी का कोरोना वायरस के संक्रमण के संदर्भ में सर्वेक्षण करने का फैसला किया था और इसे पूरा करने के लिए छह जुलाई की समय सीमा तय की थी। इससे पहले निषिद्ध क्षेत्रों में घर-घर जाकर सर्वेक्षण करने का कार्य 30 जून तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया था। गृह मंत्रालय के अधिकारी ने बताया, ‘‘निषिद्ध क्षेत्रों में घर-घर जाकर सर्वेक्षण करने का कार्य छह जुलाई तक प्राथमिकता के आधार पर पूरा किया जाएगा। (तारीख बढ़ाई गई क्योंकि दिल्ली में निषिद्ध क्षेत्रों की संख्या बढ़कर 435 हो गई है।) इसके बाद यह प्रक्रिया पूरी दिल्ली में अपनाई जाएगी।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़