J&K के अरनिया सेक्टर में दिखा ड्रोन, PAK से भेजे जाने का शक, सुरक्षाबलों ने दागी गोलियां

J&K के अरनिया सेक्टर में दिखा ड्रोन, PAK से भेजे जाने का शक, सुरक्षाबलों ने दागी गोलियां
प्रतिरूप फोटो

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने बताया कि सुरक्षाबलों ने अंतरराष्ट्रीय सीमा के साथ आसमान में लाल और पीले रंग की रोशनी देखी। जब उन्हें पता चला की आसमान में दिखने वाली रोशनी उड़ते हुए ड्रोन की है तो उन्होंने 25 एलएमजी गोलियां चलाना शुरू कर दिया।

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास अरनिया सेक्टर में ड्रोन देखे जाने की जानकारी मिल रही है। आपको बता दें कि अरनिया सेक्टर में सोमवार तड़के सुबह 5:30 बजे आसमान में लाल और पीले रंग की चमकती हुई रोशनी देखी गई। जिसके बाद तलाशी अभियान शुरू किया गया। 

इसे भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर: त्राल में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकवादी ढेर 

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने बताया कि सुरक्षाबलों ने अंतरराष्ट्रीय सीमा के साथ आसमान में लाल और पीले रंग की रोशनी देखी। जब उन्हें पता चला की आसमान में दिखने वाली रोशनी उड़ते हुए ड्रोन की है तो उन्होंने 25 एलएमजी गोलियां चलाना शुरू कर दिया। जिसके बाद ड्रोन पाकिस्तान की तरफ चला गया।

आपको बता दें कि पाकिस्तान लगातार घुसपैठ की कोशिशें करता रहता है और अब वह ड्रोन का सहारा ले रहा है। ऐसे में सुरक्षाकर्मी नियंत्रण रेखा (LoC) और अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास अलर्ट पर हैं और ड्रोन को देखते ही मार गिराने की रणनीति को अपना रहे हैं। फिलहाल तलाशी अभियान जारी है और खबर लिखे जाने तक ड्रोन बरामद नहीं हुआ है।  

इसे भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर: पुलवामा में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, एक आतंकवादी ढेर 

300 से अधिक देखे गए ड्रोन 

जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 के कुछ प्रावधान समाप्त हो जाने के बाद से जून 2021 तक पाकिस्तान से लगी संवेदनशील सीमा पर 300 से अधिक ड्रोन और यूएवी देखा गया है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...