उत्तरी पेरू में तेज भूकंप आने के बाद कांपी भारत की धरती, तमिलनाडु में आया 3.6 तीव्रता का भूकंप

उत्तरी पेरू में तेज भूकंप आने के बाद कांपी भारत की धरती, तमिलनाडु में आया 3.6 तीव्रता का भूकंप

उत्तरी पेरू में रविवार की सुबह 7.5 तीव्रता का भूकंप के तगड़े झटके के बाद भारत में भी भूकंप के झटके महसूस किये गये। सोमवार 29 नवंबर की तड़के तमिलनाडु में वेल्लोर के पास भूकंप की सूचना मिली थी।

उत्तरी पेरू में रविवार की सुबह 7.5 तीव्रता का भूकंप के तगड़े झटके के बाद भारत में भी भूकंप के झटके महसूस किये गये। सोमवार 29 नवंबर की तड़के तमिलनाडु में वेल्लोर के पास भूकंप की सूचना मिली थी। तमिलनाडु राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (TNSDMA) के अनुसार, भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 3.6 थी। भूकंप का केंद्र वेल्लोर से 59.4 किमी पश्चिम-दक्षिण पश्चिम में था। नेशनल सेंटर ऑफ सीस्मोलॉजी ने बताया कि घटना सोमवार सुबह करीब 4.17 बजे और 25 किलोमीटर की गहराई पर हुई. हालांकि, क्षेत्र में किसी भी तरह के जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है।

इसे भी पढ़ें: मनोहर लाल खट्टर से मिले कैप्टन अमरिंदर, बोले- थोड़ा इंतजार करिए, हम सरकार बनाएंगे

तमिलनाडु में 3.6 तीव्रता का भूकंप

तमिलनाडु के उत्तरी नगर वेल्लोर से कुछ दूर सोमवार तड़के भूकंप आया। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र ने यह जानकारी दी। इस बीच, प्रशासन के अधिकारियों ने एक गांव में एक घर के आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त होने की सूचना दी। पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले केंद्र ने बताया कि भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 3.6 मापी गई। भूकंप सोमवार को तड़के चार बजकर 17 मिनट पर 25 किलोमीटर की गहराई में आया। केंद्र ने बताया कि इसका केंद्र वेल्लोर से 59 किलोमीटर दूर और चेन्नई से करीब 184 किलोमीटर पश्चिम में था। वेल्लोर जिला प्रशासन के अधिकारियों ने बताया कि भूकंप थट्टापरई गांव (गुड़ियट्टम तालुक) के तहत मथुरा मीनूर कोलाइमेडु में आया और इलाके में एक घर भूकंप के असर से क्षतिग्रस्त हो गया। दो मंजिला घर के मालिक जी सेल्वम ने बताया कि भूकंप की वजह से घर में ‘दरार’ आ गई। अधिकारियों ने बताया कि भूकंप के कारण जिले में किसी और तरह के नुकसान का पता लगाने का काम जारी है।

इसे भी पढ़ें: एकतरफा प्यार का ऐसा अंजाम! रिप्लाई में लडकी ने I Hate you लिखा तो आरोपी ने पूरे घरवालों की कर दी हत्या

उत्तरी पेरू में 7.5 तीव्रता का भूकंप का झटका

उत्तरी पेरू में रविवार की सुबह 7.5 तीव्रता का भूकंप का झटका महसूस किया गया। अमेरिकी भूगर्भ सर्वेक्षण ने यह जानकारी दी। स्थानीय समयानुसार रविवार सुबह पांच बजकर 52 मिनट पर भूकंप का तेज झटका आया, जिससे कई इमारतों को नुकसान पहुंचा और मलबे के कारण कई सड़कें बाधित हुईं। भूकंप की तीव्रता काफी तेज थी हालांकि, इसकी गहराई करीब 112 किलोमीटर होने के कारण अधिक नुकसान की आशंका नहीं है। भूकंप का केंद्र पेरू के तटीय शहर बैरंका से 42 किलोमीटर उत्तर-उत्तर पश्चिम में था। महापौर वाल्टर कलकुई ने पेरू के आरपीपी रेडियो से कहा कि अमेजन प्रांत के ला-जाल्का जिले में स्थित चार सदी पुराने संरक्षित गिरजाघर का कुछ हिस्सा ढह गया जिसमें दबने के कारण तीन लोग मामूली रूप से घायल हो गए। पेरू के अमेजन और कजामार्का प्रांत में इमारतों के ढहने से सड़कों पर मलबे के कारण कई राजमार्ग पर आवाजाही बाधित हुई। भूकंप का झटका राजधानी लीमा में भी महसूस किया गया, जहां कुछ लोग दहशत के कारण घरों से बाहर निकल आए। भूकंप के कारण दक्षिण में स्थित इक्वाडोर के एक गिरजाघर को भी आंशिक क्षति पहुंची।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।