कर्मचारी यूनियन रोडवेज निजीकरण का झूठा प्रचार कर रही: मूलचंद शर्मा

कर्मचारी यूनियन रोडवेज निजीकरण का झूठा प्रचार कर रही: मूलचंद शर्मा

29 मार्च को हड़ताल के दौरान सिरसा के डबवाली में रोडवेज परिचालक और चालक को जूतों की माला पहनाए जाने के मामले पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि इस मामले में संबंधित चालक और परिचालक द्वारा आरोपियों पर मामला दर्ज करवा दिया है। पुलिस ने कुछ को गिरफ्तार भी कर लिया है।

चंडीगढ़ । परिवहन मंत्री  मूलचंद शर्मा ने कहा कि कर्मचारी यूनियन निजीकरण का झूठा प्रचार कर रही हैं। सरकार लगातार रोडवेज बेड़े को बढ़ा रही है। पिछले दिनों 2 हजार रोडवेज कर्मचारियों की प्रमोशन की गई है। पूरे देश में हरियाणा रोडवेज की धाक है। आम जनता को किसी तरह की परेशानी नहीं आने दी जाएगी।

29 मार्च को हड़ताल के दौरान सिरसा के डबवाली में रोडवेज परिचालक और चालक को जूतों की माला पहनाए जाने के मामले पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि इस मामले में संबंधित चालक और परिचालक द्वारा आरोपियों पर मामला दर्ज करवा दिया है। पुलिस ने कुछ को गिरफ्तार भी कर लिया है। उन्होंने कहा कि धरना और प्रदर्शन करना सभी का लोकतांत्रिक अधिकार है लेकिन यदि कोई कर्मचारी किसी दूसरे कर्मचारी के गले में जूतों की माला पहनाकर बदतमीजी करेगा तो ऐसे लोगों को बख्शा नहीं जाएगा। इन पर कानूनी कार्रवाई के साथ-साथ सख्त से सख्त विभागीय कार्रवाई भी की जाएगी।

मंत्री ने कहा कि हड़ताल के दौरान कुछ जिलों में रोडवेज महाप्रबंधकों ने अच्छा कार्य किया और काफी संख्या में बसों को चलवाया। वहीं कुछ जिलों के महाप्रबंधक इसमें फेल रहे। ऐसे महाप्रबंधकों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई शुरू कर दी गई है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।