• कर्नाटक में हर कोई बनना चाहता है मुख्यमंत्री, आलाकमान के फैसले का करेंगे पालन: आर अशोक

राजस्व मंत्री आर अशोक का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने कहा है कि हर कोई आकांक्षी है, हर कोई मुख्यमंत्री बनना चाहता है। लेकिन एक ही मुख्यमंत्री होता है।

बेंगलुरू। भाजपा के वरिष्ठ नेता बीएस येदियुरप्पा के कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद यह सवाल सबसे ज्यादा अहम हो गया कि प्रदेश का अगला मुख्यमंत्री किसे बनाया जाएगा ? फिलहाल भाजपा भी यही विचार कर रही है। माना जा रहा है कि लिंगायत समुदाय के किसी प्रभावशाली नेता को मुख्यमंत्री पद सौंपा जा सकता है। हालांकि अभी कुछ कहा नहीं जा सकता है क्योंकि भाजपा अंतिम समय में नया नाम लाने में माहिर रही है। 

इसे भी पढ़ें: कर्नाटक के नए सीएम का ऐलान आज ! धर्मेंद्र प्रधान और जी किशन रेड्डी बनाए गए पर्यवेक्षक 

इसी बीच राजस्व मंत्री आर अशोक का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने कहा है कि हर कोई मुख्यमंत्री बनना चाहता है। समाचार एजेंसी एएनआई के संवाददाता ने आर अशोक से संभावित मुख्यमंत्री को लेकर जब सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि हर कोई आकांक्षी है, हर कोई मुख्यमंत्री बनना चाहता है। लेकिन एक ही मुख्यमंत्री होता है। इसलिए हम पार्टी आलाकमान के फैसले का पालन करेंगे।

आपको बता दें कि केंद्रीय मंत्री प्रल्हाद जोशी, भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव सीटी रवि, बीएल संतोष के साथ-साथ आर अशोक का नाम भी संभावित मुख्यमंत्री के तौर पर चल रहा है। हालांकि किसको मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है अभी इस पर विचार हो रहा है। 

इसे भी पढ़ें: अनुभवी नेता जरूर हैं येदियुरप्पा पर अपना कार्यकाल कभी पूरा नहीं कर पाए 

येदियुरप्पा मंत्रिमंडल में गृह मंत्री रहे बसवराज एस बोम्मई ने बताया कि एक निजी होटल में शाम सात बजे पार्टी विधायक दल की बैठक है। जहां पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि येदियुरप्प मंत्रिमंडल को भंग कर दिया गया है। आपको बता दें कि येदियुरप्पा के उत्तराधिकारी के चयन के लिए भाजपा ने धर्मेंद्र प्रधान और जी किशन रेड्डी को केंद्रीय पर्यवेक्षक के रूप में बेंगलुरु भेजा है।