भाजपा में शामिल हुए पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर, बोले- PM के विजन से हुआ हूं प्रभावित

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 22, 2019   15:08
भाजपा में शामिल हुए पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर, बोले- PM के विजन से हुआ हूं प्रभावित

पूर्व सलामी बल्लेबाज यहां केंद्रीय मंत्री अरूण जेटली और रवि शंकर प्रसाद की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हुए।

नयी दिल्ली। पूर्व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर गौतम गंभीर शुक्रवार को भाजपा से जुड़ गए और राजधानी की एक लोकसभा सीट से आगामी लोकसभा चुनाव में उम्मीदवार हो सकते हैं। इसी बीच उन्होंने कहा कि मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विजन से काफी प्रभावित हुआ हूं।पूर्व सलामी बल्लेबाज यहां केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली और रवि शंकर प्रसाद की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हुए। गंभीर 2011 विश्व कप और 2007 टी20 विश्व कप में भारत की जीत के सूत्रधारों में रहे थे। उन्हें हाल ही में पद्मश्री से नवाजा गया है। 

इसे भी पढ़ें: कोहली की कप्तानी पर गंभीर ने उठाए सवाल, कहा- धोनी और रोहित से तुलना नहीं

भाजपा सूत्रों के अनुसार गंभीर को नयी दिल्ली सीट से उतारा जा सकता है जहां से फिलहाल मीनाक्षी लेखी भाजपा की सांसद है। उन्होंने कहा कि अभी अंतिम फैसला नहीं लिया गया है। गंभीर ने कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विजन से प्रभावित हैं और पार्टी के सदस्य के तौर पर देश की भलाई के लिये काम करेगा। जेटली ने गंभीर के भाजपा में शामिल होने को महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि उन्हें लोकसभा चुनाव में उतारने को लेकर पार्टी सही समय पर फैसला लेगी।

इसे भी पढ़ें: होली पर हर तरह के नशे से दूर रहें, गर्भवती महिलाएं खास तौर पर ध्यान दें

भाजपा सूत्रों के अनुसार गंभीर को नयी दिल्ली सीट से उतारा जा सकता है जहां से फिलहाल मीनाक्षी लेखी भाजपा की सांसद है। उन्होंने कहा कि अभी अंतिम फैसला नहीं लिया गया है। जेटली ने कहा कि गंभीर दिल्ली में पले बढे हैं और पार्टी उनकी प्रतिभा का अधिकतम इस्तेमाल करेगी। गंभीर ने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह से भी मुलाकात की। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।