कैबिनेट विस्तार को लेकर विपक्ष के आरोपों पर बोले फडणवीस, अजित दादा बड़ी जल्दी भूल जाते हैं...

Fadnavis
अभिनय आकाश । Aug 07, 2022 4:10PM
नई दिल्ली में पत्रकारों से बात करते हुए फडणवीस ने रविवार को कहा कि सुप्रीम कोर्ट के मामले का कैबिनेट विस्तार से कोई लेना-देना नहीं है। शिवसेना के चुनाव चिन्ह के लिए शिंदे गुट और उद्धव खेमा आपस में लड़ रहे हैं।

महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने रविवार को मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे द्वारा कैबिनेट विस्तार जल्द होने की बात को दोहराया। लेकिन डिप्टी सीएम ने इसके लिए कोई तारीख का उल्लेख नहीं किया। शिंदे गुट के नेता दीपक केसरकर ने पहले कहा था कि मंत्रिमंडल का विस्तार रविवार से पहले होगा। वहीं भाजपा नेता सुधीर मुनगंटीवार ने गुरुवार को घोषणा की कि मंत्रिमंडल का विस्तार 15 अगस्त से पहले होगा ताकि अभिभावक मंत्री अपने-अपने जिलों में राष्ट्रीय ध्वज फहरा सकें। एकनाथ शिंदे और फडणवीस बैठकों में भाग लेने के लिए दो दिवसीय यात्रा पर नई दिल्ली में हैं। वे शनिवार को आजादी का अमृत महोत्सव की बैठक में शामिल हुए, जबकि शिंदे रविवार को नीति आयोग की संचालन परिषद की बैठक में शामिल हुए।

इसे भी पढ़ें: ED की 9 घंटे की पूछताछ के बाद बोलीं वर्षा राउत, हमेशा उद्धव ठाकरे के साथ हैं, चाहे कुछ भी हो नहीं छोड़ेंगे शिवसेना

नई दिल्ली में पत्रकारों से बात करते हुए फडणवीस ने रविवार को कहा कि सुप्रीम कोर्ट के मामले का कैबिनेट विस्तार से कोई लेना-देना नहीं है। शिवसेना के चुनाव चिन्ह के लिए शिंदे गुट और उद्धव खेमा आपस में लड़ रहे हैं। एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में विद्रोह के बाद उद्धव ठाकरे ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस ने क्रमशः 30 जून को मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। तब से, इन दोनों के अलावा राज्य कैबिनेट में कोई मंत्री नहीं है। फडणवीस ने कहा कि मुख्यमंत्री जनता का है और मैं उनके मंत्रिमंडल में हूं। हम इस राज्य के लोगों के लिए हमेशा उपलब्ध हैं। 

इसे भी पढ़ें: अंधविश्वास के कारण कर डाला विनाश! काला जादू करते हुए माता-पिता ने पांच साल की बेटी को पीट-पीटकर मार डाला

विपक्ष की तरफ से केवल दो मंत्रियों के साथ काम करने के लिए नवगठित सरकार की आलोचना की जा रही है। शिंदे ने शनिवार को आलोचना का जवाब दिया और कहा कि मंत्रिमंडल विस्तार में देरी से सरकार का कामकाज प्रभावित नहीं हुआ है। शिंदे ने कहा, "सरकार का काम किसी भी तरह से प्रभावित नहीं हुआ है। निर्णय लेने की प्रक्रिया प्रभावित नहीं हुई है। मैं और उपमुख्यमंत्री निर्णय लेते रहे हैं और सरकार के कामकाज पर कोई असर नहीं पड़ा है।"

इसे भी पढ़ें: दिल्ली से ‘हरी झंडी’ नहीं मिलने के कारण महाराष्ट्र मंत्रिमंडल विस्तार में देरी हो रही है: अजित पवार

राकांपा के अजीत पवार ने कहा कि मंत्रिमंडल विस्तार में देरी हो रही है क्योंकि दोनों को दिल्ली से हरी झंडी नहीं मिली है। अजीत पवार ने कहा, "हम लगातार मांग कर रहे हैं कि सीएम कैबिनेट का विस्तार करें और कानून व्यवस्था, भारी बारिश और किसानों के मुद्दों को हल करने के लिए इससे संबंधित मंत्रियों की नियुक्ति करें। पवार ने कहा कि  हमें समझना चाहिए कि जब तक दिल्ली से हरी झंडी नहीं मिलती, वे महाराष्ट्र कैबिनेट का विस्तार नहीं कर पाएंगे। अजीत पवार की बातों का जवाब देते हुए फडणवीस ने कहा कि वे विपक्ष के नेता हैं। अजीत दादा आसानी से भूल जाते हैं कि जब वह सरकार में थे तो पहले 32 दिनों में सिर्फ पांच मंत्री थे। 

अन्य न्यूज़