• LinkedIn पर फर्जी आईपीएस बनकर नौकरी दिलाने के नाम लोगों से करता था ठगी, पुलिस ने दबोचा

अनुज प्रकाश नाम का एक शख्स खुद को आईपीएस बताता था और लोगों को नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी को अंजाम देता था। आरोपी ने प्रोफेशनल सोशल साइट लिंक्डइन पर अपनी फर्जी आईपीएस वाली प्रोफाइल बनाई हुई थी।

सोशल मीडिया का जमाना जितनी तेजी से आगे बढ़ रहा है उतनी ही तेजी से अपराध भी बढ़ रहे हैं। सोशल नेटवर्किंग साइट्स के जरिए ठगी मामले आए दिन सामने आते हैं। अब ऐसा ही एक मामला सामने आया है दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद से।


दरअसल, अनुज प्रकाश नाम का एक शख्स खुद को आईपीएस बताता था और लोगों को नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी को अंजाम देता था। आरोपी ने प्रोफेशनल सोशल साइट लिंक्डइन पर अपनी फर्जी आईपीएस वाली प्रोफाइल बनाई हुई थी।


दो लोगों से की थी 4 लाख की ठगी

पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। गाजियाबाद के इंदिरापुरम के रहने वाले मेजर आर।हुड्डा और सुनील सिंह ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि एक शख्स ने उन लोगों को नौकरी दिलाने का वादा किया और इसके लिए उनसे 4 लाख रुपए ठग लिए। शिकायत मिलने के बाद मामला साइबर सेल को रेफर कर दिया गया।

 

साइबर सेल ने आरोपी की लिंक्डइन प्रोफाइल की जांच की और उसके ठिकाने का पता लगाया। साइबर सेल और पुलिस ने दबिश देकर आरोपी अनुज को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में अनुज ने अपना जुर्म भी कबूल कर लिया।

 

पूछताछ में कबूला जुर्म

अनुज ने बताया कि उसने अपना फर्जी आईपीएस अकाउंट बनाया। जहां पर वो पहले लोगों से दोस्ती करता और फिर नौकरी दिलाने के नाम पर उनके साथ ठगी की वारदात को अंजाम देता। पुलिस ने आरोपी के लैपटॉप और मोबाइल कब्जे में लेकर सीज कर दिए हैं। मामले की जांच की जा रही है।