उत्तर प्रदेश कि बड़ी खबरें: औद्योगिक विकास मंत्री बोले, किसानों की मांगों का यथा संभव किया जाएगा निदान

उत्तर प्रदेश कि बड़ी खबरें: औद्योगिक विकास मंत्री बोले, किसानों की मांगों का यथा संभव किया जाएगा निदान

उत्तर प्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना से आज नोएडा के विधायक पंकज सिंह के नेतृत्व में 10 सदस्यीय किसानों के एक प्रतिनिधि मण्डल ने भेंट की। सिंह ने औद्योगिक विकास मंत्री से नोएडा के किसानों की कतिपय समस्याओं के संबंध में किसानों का पक्ष रखा और उनकी समस्याओं के यथाशीघ्र निस्तारण का आग्रह किया।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में कल एक दिन में कुल 1,24,647 सैम्पल की जांच की गयी है। जिसमें कोरोना संक्रमण के 05 नये मामले आये हैं। प्रदेश में अब तक कुल 8,74,37,937 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 09 तथा अब तक कुल 16,87,391 लोग कोविड-19 से ठीक हो चुके हैं। प्रदेश में कोरोना के कुल 86 एक्टिव मामले हैं तथा 67 लोग होम आइसोलेशन में है। उन्होंने बताया कि कल जनपदों से 59,869 सैम्पल आरटीपीसीआर की जांच के लिए भेजे गये।  प्रसाद ने बताया कि कोविड वैक्सीनेशन का कार्य निरन्तर किया जा रहा है। प्रदेश में कल एक दिन में 8,17,762 डोज दी गयी। प्रदेश में कल तक पहली डोज 11,11,60,526 तथा दूसरी डोज 4,90,48,738 लगायी गयी हैं। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश देश में 16 करोड़ से अधिक वैक्सीन की डोज देने वाला देश में पहला राज्य है। प्रदेश में अब तक कुल 16,02,09,264 डोज दी जा चुकी है। प्रसाद ने बताया कि कोविड का नया वैरिएंट ओमीक्रॉन साउथ अफ्रीका के बाद एक दर्जन से अधिक देशों में तेजी से फैल रहा है। भारत सरकार के निर्देशों के क्रम में अन्य देशों से आने वाले यात्रियों की कोविड टेस्टिंग करायी जा रही है। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा सभी जनपदों में कोविड के दृष्टिगत सर्तकता एवं सावधानी बरतने के निर्देश दिये गये है।

इसे भी पढ़ें: आखिर राजा भैया को पहचानने से अखिलेश ने क्यों किया इनकार? जानिए इसके पीछे की सियासी हिस्ट्री 

उन्होंने कहा कि सभी लोग वैक्सीन की डोज अवश्य लें तथा जिन लोगों ने वैक्सीन की प्रथम डोज ले ली है। वे समय आने पर अपनी दूसरी डोज अवश्य ले। उन्होंने बताया कि कोविड संक्रमण अभी पूरी तरह समाप्त नहीं हुआ है। इसलिए सभी लोग कोविड अनुरूप आचरण करे। टीकाकरण के बाद भी कोविड प्रोटोकॉल का पालन अवश्य करें। किसी भी प्रकार की समस्या होने पर कोविड हेल्पलाइन 18001805145 पर सम्पर्क करे। प्रसाद ने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा मच्छर जनित रोग तथा जल जनित रोग से बचाने के लिए आवश्यक चिकित्सीय प्रबन्ध किये गये है। सभी लोग मच्छर जनित एवं जलजनित रोग से बचने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा बतायी जा रही सावधानियों को अपनाएं। उन्होंने बताया कि जीका वायरस के 149 मामलों मे से 143 लोग पूर्णतः ठीक हो चुके है तथा शेष 06 लोग भी शीघ्र स्वस्थ्य हो जायेंगे।

किसानों की मांगों का यथा संभव निदान किया जायेगा

उत्तर प्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री  सतीश महाना से आज नोएडा के विधायक  पंकज सिंह के नेतृत्व में 10 सदस्यीय किसानों के एक प्रतिनिधि मण्डल ने भेंट की।  सिंह ने औद्योगिक विकास मंत्री से नोएडा के किसानों की कतिपय समस्याओं के संबंध में किसानों का पक्ष रखा और उनकी समस्याओं के यथाशीघ्र निस्तारण का आग्रह किया। औद्योगिक विकास मंत्री ने प्रतिनिधि मण्डल को आश्वासन दिया कि उनकी मांगों का यथा संभव निदान किया जायेगा। राज्य सरकार पूरी संवेदनशीलता के साथ किसानों के साथ खड़ी है। किसानों की जितनी भी समस्याएं  हैं, उस पर गम्भीरतापूर्वक विचार कर नियमानुसार कार्यवाही की जायेगी। बैठक में अपर मुख्य सचिव, औद्योगिक विकास  अरविंद कुमार भी मौजूद थे।

आयोग के सेक्रेटरी जनरल ने मतदाता पंजीकरण का कार्य पूर्ण निष्ठा से करने के दिए निर्देश 

भारत निर्वाचन आयोग के सेक्रेटरी जनरल  उमेश सिन्हा व सीनियर डिप्टी इलेक्शन कमिश्नर  सुदीप जैन, डिप्टी इलेक्शन कमिश्नर  चंद्र भूषण कुमार ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी, उत्तर प्रदेश  अजय कुमार शुक्ला एवं समस्त मंडलायुक्त (रोल आब्जर्वर) अपर आयुक्त(रोल आब्जर्वर), जिला निर्वाचन अधिकारियों, उप जिला निर्वाचन अधिकारियों के साथ आगामी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों की निर्वाचक नामावलियों का संक्षिप्त पुनरीक्षण-2022 की गहन समीक्षा वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से की है। वीडियो कांफ्रेंसिंग में सेक्रेटरी जनरल ने निर्देश देते हुए कहा कि मतदाता पंजीकरण का कार्य पूर्ण निष्ठा एवं ईमानदारी से किया जाए। किसी भी अर्ह मतदाता का नाम मतदाता सूची में सम्मिलित होने से छूटने न पाए।

इसे भी पढ़ें: पूर्वांचल के बाद अब अवध की बारी, प्रयागराज जाएंगे पीएम मोदी, तैयारियां जोरों पर 

उन्होंने कहा कि 01 जनवरी 2022 को 18 वर्ष की आयु पूर्ण करने  वाले  नए मतदाताओं के पंजीकरण पर विशेष ध्यान दिया जाए। पंजीकरण के लिए प्राप्त आवेदनों में छोटी-छोटी गलतियां होने पर उन्हें निरस्त न किया जाए, बल्कि बीएलओ घर-घर जाकर ऐसे फार्मों की गलतियों को सुधारने का कार्य करें। सभी ए.आर.ओ., ई.ए.आर.ओ., बीएलओ की प्रतिदिन माइक्रो मानीटरिंग की जाये, जिससे  मतदाता सूची में होने वाली गलतियों को समय से सुधारा जा सके। सिन्हा ने कहा कि सभी जिला निर्वाचन अधिकारी निरस्त फार्मों की गहनता से मानीटरिंग करें। उन्होंने कहा कि निर्वाचन आयोग का उद्देश्य है कि सभी अर्ह मतदाताओं का नाम मतदाता सूची में अवश्य दर्ज हो। इसलिए समस्त संबंधित अधिकारी/कर्मचारी अपना कार्य मेहनत एवं पूर्ण निष्ठा के साथ करें।  वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में निर्वाचन कार्यालय, उ.प्र. से अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रमोद कुमार उपाध्याय एवं  चंद्रशेखर, विशेष कार्याधिकारी निर्वाचन  रमेश चंद्र राय, संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी अम्बरीश कुमार वास्तव मौजूद रहे।सती





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।