मुजफ्फरनगर में बोले अमित शाह, गन्ने के भुगतान में देरी की स्थिति में किसानों को ब्याज सहित मिलेगा पैसा

Amit Shah
मुजफ्फरनगर में लोगों को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि हम भाजपा के घोषणापत्र में यह शामिल करने वाले हैं कि भुगतान में देरी की स्थिति में चीनी मिलों से ब्याज वसूला जाएगा और किसानों को ब्याज सहित भुगतान किया जाएगा।

मुजफ्फरनगर। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को किसानों को आश्वासन दिया कि गन्ने के भुगतान में देरी की स्थिति में किसानों को ब्याज सहित पैसा मिलेगा और यह मिल मालिकों से वसूला जाएगा। शाह ने कहा कि यह भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के चुनावी घोषणा पत्र का हिस्सा होगी। 

इसे भी पढ़ें: PM मोदी के लाल टोपी वाले बयान पर बोले अखिलेश, लाल टोपी और लाल पोटली ही भाजपा को सिखाएगी सबक 

मुजफ्फरनगर में लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘हम भाजपा के घोषणापत्र में यह शामिल करने वाले हैं कि भुगतान में देरी की स्थिति में चीनी मिलों से ब्याज वसूला जाएगा और किसानों को ब्याज सहित भुगतान किया जाएगा।’’ शाह ने कहा कि कुछ जगहों पर किसानों ने उन्हें गन्ना भुगतान में देरी के बारे में बताया था। 

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश चुनावों को लेकर निर्वाचन आयोग का बड़ा फैसला, 10 फरवरी से 7 मार्च तक एग्जिट पोल पर लगाई रोक 

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में 21 मिलों को समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने बंद कर दिया था, हमारे समय में एक भी चीनी मिल बंद नही हुई है। गन्ने के उत्पादन में उत्तर प्रदेश सबसे ऊपर है और राज्य का पश्चिमी क्षेत्र गन्ने के फसल की खेती के लिए जाना जाता है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़