दिल्ली में रेमडेसिविर की कालाबाजारी करने वाले 5 आरोपी गिरफ्तार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 27, 2021   09:01
दिल्ली में रेमडेसिविर की कालाबाजारी करने वाले 5 आरोपी गिरफ्तार

दिल्ली में रेमडेसिविर की कालाबाजारी करने वाले पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया।अधिकारी ने बताया कि पकड़े गए लोगों ने पुलिस को बताया कि वे जरूरतमंद लोगों को एक शीशी 70,000 रुपये में बेचते थे। उन्होंने बताया कि ये दोनों आरोपी जैन से उच्च दाम पर ये इंजेक्शन खरीदते थे।

नयी दिल्ली। कोरोना वायरस के मामलों में तेज बढ़ोतरी के बीच रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी में कथित संलिप्तता के लिए दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों से पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने बताया कि दक्षिणी दिल्ली में तीन लोगों को पकड़ा गया जबकि पश्चिमी दिल्ली में भी दो लोगों को गिरफ्तार किया गया। उन्होंने बताया कि दक्षिणी दिल्ली में रविवार को गिरफ्तार किए गए लोगों की पहचान पटपड़गंज निवासी लिखित गुप्ता (30), दरियागंज में रहने वाले आकाश वर्मा (23) और गीता कॉलोनी के निवासी अनुज जैन (40) के तौर पर हुई। पुलिस उपायुक्त (दक्षिण) अतुल कुमार ठाकुर ने बताया, ‘‘इंडिया हैबिटैट सेंटर, लोधी रोड के पास एक कार की तलाशी ली गयी। जांच करने पर गुप्ता और वर्मा के पास से रेमडेसिविर इंजेक्शन की चार शीशियां मिलीं।’’

इसे भी पढ़ें: अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन कोरोना वायरस से संक्रमित, AIIMS में भर्ती

अधिकारी ने बताया कि पकड़े गए लोगों ने पुलिस को बताया कि वे जरूरतमंद लोगों को एक शीशी 70,000 रुपये में बेचते थे। उन्होंने बताया कि ये दोनों आरोपी जैन से उच्च दाम पर ये इंजेक्शन खरीदते थे। बाद में, जैन को इंजेक्शन की तीन शीशियों के साथ गिरफ्तार किया गया, जिन्हें वह वर्मा को बेचने लाया था। पुलिस ने बताया कि गुप्ता की दरियागंज और जैन की चांदनी चौक में दवाओं की एक दुकान है। वर्मा की गहनों की दुकान है। उन्होंने बताया कि उनके पास से रेमडेसिविर इंजेक्शन की कुल सात शीशियां और एक कार बरामद की गई है। पुलिस ने रेमडेसिविर दवा की कथित कालाबाजारी के लिए पश्चिमी दिल्ली में भी दो लोगों को गिरफ्तार किया। पुलिस ने बताया कि तिलक नगर थाने के कर्मियों को मिली गुप्त सूचना के बाद रविवार को गुरप्रीत सिंह (29) और अनुज जायसवाल (30) को गिरफ्तार किया गया। सिंह मायापुरी में कल-पूर्जे का व्यापार करता है जबकि जायसवाल कृष्णानगर में एक अस्पताल में काम करता है। दोनों के पास से रेमडेसिविर की दो शीशियां बरामद की गई हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...