मेयर नवीन जैन के पत्र पर बोलीं प्रियंका गांधी, आगरा में स्थिति बेहद खराब है, उचित उपचार की जरूरत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 26, 2020   13:03
मेयर नवीन जैन के पत्र पर बोलीं प्रियंका गांधी, आगरा में स्थिति बेहद खराब है, उचित उपचार की जरूरत

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कल मैंने भी यही मुद्दा उठाया था। पारदर्शिता बेहद जरूरी है। जांच पर ध्यान देना जरूरी है। अगर कोरोना वायरस को रोकना है तो पूरा ध्यान सही सूचना और उचित उपचार पर केन्द्रित होना चाहिए।

नयी दिल्ली। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने रविवार को कहा कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए पूरा ध्यान सही सूचना और उचित उपचार पर केन्द्रित होना चाहिए। पार्टी महासचिव का यह बयान आगरा के महापौर नवीन जैन द्वारा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लिखे गए पत्र के संदर्भ में है। जैन ने आदित्यनाथ से ‘‘आगरा को बचाने’’ की गुहार लगाई है। कांग्रेस महासचिव ने ट्वीट किया, ‘‘आगरा शहर में स्थिति बेहद खराब है और कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या दिनों दिन बढ़ रही है।आगरा के महापौर का कहना है कि अगर सही प्रबंध नहीं किए गए तो स्थिति हाथ से निकल सकती है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘कल मैंने भी यही मुद्दा उठाया था। पारदर्शिता बेहद जरूरी है। जांच पर ध्यान देना जरूरी है। अगर कोरोना वायरस को रोकना है तो पूरा ध्यान सही सूचना और उचित उपचार पर केन्द्रित होना चाहिए।’’ 

इसे भी पढ़ें: आगरा मेयर ने दुखी मन से योगी आदित्यनाथ को लिखा पत्र, कहा- शहर बन सकता है देश का वुहान 

कांग्रेस नेता ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार को आगरा के महापौर की बातों को सही तरीके से लेना चाहिए और लोगों को इस वैश्विक महामारी से बचाने की तत्काल कोशिश करनी चाहिए। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार उत्तर प्रदेश में संक्रमण से 27 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं शनिवार को 177 नए मामले सामने आए हैं,जिससे संक्रमण के मामले बढ़ कर 1,793 पर पहुंच गए हैं। शनिवार को मुरादाबाद और आगरा में एक -एक व्यक्ति की संक्रमण से मौत हो गई। प्रदेश के सहारनपुर से 37, आगरा से 25,कानपुर से 24, लखनऊ से 19, संतकबीर नगर से 19 और बरेली से 11 नए मामले सामने आए हैं। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...