दिल्ली में 18 साल से ऊपर सभी को निशुल्क कोरोना वैक्सीन लगाई जाएगी: अरविंद केजरीवाल

दिल्ली में 18 साल से ऊपर सभी को निशुल्क कोरोना वैक्सीन लगाई जाएगी: अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को घोषणा की है कि सभी 18 साल से ऊपर वाले वयस्कों के लिए Covid -19 टीकाकरण शनिवार 1 मई से निशुल्क लगाया जाएगा।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को घोषणा की है कि सभी 18 साल से ऊपर वाले वयस्कों के लिए Covid -19 टीकाकरण शनिवार 1 मई से निशुल्क लगाया जाएगा।दिल्ली सरकार 18 साल से ऊपर के सभी लोगों के लिए कोविड-19 का टीका मुफ्त में उपलब्ध कराएगी।

इसे भी पढ़ें: राहुल गांधी का मोदी सरकार पर निशाना, कहा- भारत को भाजपा के ‘सिस्टम’ का शिकार नहीं बनने दिया जाएगा

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ऑनलाइन  एक आभासी संवाददाता सम्मेलन में कहा कि दिल्ली सरकार की उम्र 18 साल से ऊपर सभी के लिए निःशुल्क टीके उपलब्ध कराने का फैसला किया है।  उन्होंने कहा कि हमने 1.34 करोड़ टीके की खरीद के लिए स्वीकृति प्रदान की है। हमें यह सुनिश्चित करना है कि यह क्षमताओं जल्द ही एक प्रयास करेंगे और जल्द से जल्द लोगों को प्रशासित। 

इसे भी पढ़ें: कोरोना पीड़ितों के लिए सरकार के प्रयास जमीनी हकीकत में भी लागू हों : मायावती

 

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 टीकों की अलग-अलग कीमत नहीं होनी चाहिए, यह लाभ कमाने का वक्त नहीं है। एक कंपनी 400 रुपये खुराक प्रति, अन्य कंपनी 600 रुपये खुराक प्रति पर चार्ज दे रहा है पर राज्यों को अलग-अलग वैक्सीन का रेट क्यों देना पड़ रहा है। भारत के सीरम संस्थान (SII) है, जो Covishield के ब्रांड नाम के तहत एस्ट्राजेनेका-ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के टीके का विनिर्माण, 600 रुपये खुराक प्रति 400 रुपये खुराक और निजी अस्पतालों प्रति की दर से राज्य सरकारों को टीका आपूर्ति तय की।

Covaxin, Covid -19 टीका भारत बायोटेक द्वारा निर्मित, निजी अस्पतालों के लिए राज्य सरकारों के लिए 600 रुपये प्रति खुराक और रुपये 1,200 खुराक प्रति की कीमत पर उपलब्ध हो जाएगा। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।