गहलोत ने पीएम मोदी से बात कर रोगियों के हिसाब से दवाएं व ऑक्सीजन उपलब्ध कराने मांग की

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 27, 2021   20:50
गहलोत ने पीएम मोदी से बात कर रोगियों के हिसाब से दवाएं व ऑक्सीजन उपलब्ध कराने मांग की

कोरोना वायरस संक्रमितों की बढ़ती संख्या के बीच राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की और उनसे रोगियों के हिसाब से राजस्थान को दवाइयां व ऑक्सीजन उपलब्ध कराने की अपील की।

जयपुर। कोरोना वायरस संक्रमितों की बढ़ती संख्या के बीच राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की और उनसे रोगियों के हिसाब से राजस्थान को दवाइयां व ऑक्सीजन उपलब्ध कराने की अपील की। इसके साथ ही गहलोत ने मोदी को सुझाव दिया कि केंद्र सरकार ऑक्सीजन का परिवहन करने वाले टैंकरों का भी अधिग्रहण करे ताकि राज्यों को ऑक्सीजन के साथ टैंकर भी मिलें और राज्यों की शिकायत दूर हो। मुख्यमंत्री कार्यालय के सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री गहलोत ने प्रधानमंत्री मोदी से टेलीफोन पर बात की है।

इसे भी पढ़ें: गुजरात हाई कोर्ट ने कहा- कोरोना से निपटने का राज्य सरकार का तरीका संतोषजनक नहीं है

गहलोत ने प्रधानमंत्री मोदी से आग्रह किया,“ राजस्थान में कोरोना संक्रमितों की संख्या ज्यादा है, इसलिए हमें दवाइयां और ऑक्सीजन भी उसके हिसाब से मिलनी चाहिए।” गहलोत ने मोदी से कहा कि रोगियों की बढ़ती संख्या और इन संसाधनों की कमी से राजस्थान में भी लोग परेशान होने लगे हैं। इसके साथ ही गहलोत ने प्रधानमंत्री मोदी को सुझाव दिया कि केंद्र सरकार ने जिस प्रकार पूरे देश के ऑक्सीजन संयंत्रों का अधिग्रहण किया है, उसी तरहदेश में गैस परिवहन करने वाले जितने टैंकर हैं, उनका भी अधिग्रहण करें और राज्यों को गैस के कोटे के साथ टैंकर भी आवंटित करें ताकि राज्यों की शिकायत दूर हो। गहलोत ने कहा कि बिना टैंकर के गैस राज्यों तक नहीं पहुंचेगी। उल्लेखनीय है कि गहलोत ने इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से भी फोन पर बात की थी और उन्हें राज्य की परिस्थितियों की जानकारी दी थी। प्रवक्ता के अनुसार, मुख्यमंत्री गहलोत ने कांग्रेस अध्यक्ष से फोन पर बात की और राजस्थान के बारे में पूरी रिपोर्ट उन्हें दी।

इसे भी पढ़ें: राजस्थान में भाजपा विधायक एक माह का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देंगे

गहलोत ने राज्य में दवाओं, ऑक्सीजन व गैस टैंकरों की कमी के बारे में भी गांधी से चर्चा की। उल्लेखनीय है कि राजस्‍थान में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच राज्‍य के तीन वरिष्‍ठ मंत्रियों का एक समूह मंगलवार को नई दिल्‍ली में रहा। ये मंत्री वहां लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, केंद्रीय रसायन व उर्वरक राज्य मंत्री मनसुख मंडाविया से मिले और राजस्थान को संक्रमितों के उपचार के लिए तत्काल रेमडेसिविर व टोसिलिजुमेब पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराने का आग्रह किया। मंत्रियों के इस समूह में ऊर्जा मंत्री बीडी कल्ला, नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल और चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा हैं जो विशेष विमान से दिल्ली पहुंचे हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।