निषाद आरक्षण के लिये कुँवर सिंह निषाद ने कहा आरक्षण नहीं तो भाजपा को वोट नहीं

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 22, 2021   21:19
निषाद आरक्षण के लिये कुँवर सिंह निषाद ने कहा आरक्षण नहीं तो भाजपा को वोट नहीं
प्रतिरूप फोटो

निषादों को आरक्षण नहीं दिया तो गिरा देंगे भाजपा सरकार कहा कुँवर सिंह निषाद ने। निषाद आरक्षण के लिये कुँवर सिंह निषाद ने कहा आरक्षण नहीं तो भाजपा को वोट नहीं।

गोरखपुर। अनुसूचित जाति में शामिल किये जाने की मांग को लेकर निषाद, कश्यप, बिंद समाज, सर्वदलीय निषाद कश्यप यूनियन के बैनर तले राष्ट्रीय संयोजक कुंवर सिंह निषाद के नेतृत्व में निषाद पंचायत 21 सितंबर को मेहदावल संतकबीरनगर के धौरापार बाजार में आयोजित किया गया, जिसमें निषाद समाज के हजारों की संख्या में महिला पुरूषों ने भाग लिया।

 

इसे भी पढ़ें: महंत नरेंद्र गिरि का सुसाइड नोट बताता है कि मंदिरों में चढ़ावे का कैसे हो रहा है दुरुपयोग: दिग्विजय  

पंचायत को संबोधित करते हुए सर्वदलीय निषाद कश्यप यूनियन के राष्ट्रीय संयोजक कुंवर सिंह निषाद ने कहा कि निषाद समाज आर्थिक, सामाजिक एवं शैक्षणिक रूप से सबसे पिछड़ा हुआ है। आज आरक्षण की सबसे ज्यादा जरूरत निषादों को है, सरकार में आने से पहले भाजपा ने अपने चुनाव घोषणा पत्र में निषादों को आरक्षण देने की बात कही थी। भाजपा ने वादा किया था कि हमारी सरकार आते ही निषाद समाज को अनुसूचित जाति का आरक्षण मिलेगा किन्तु वोट लेकर सरकार में आने के बाद भाजपा सरकार ने निषादों को किये गये आरक्षण के वादे से मुकर रही है। ऐसे में निषाद, कश्यप समाज का आक्रोश भाजपा सरकार पर बहुत भारी पड़ेगा, हम अपने संकल्प पर कायम हैं "आरक्षण नहीं तो भाजपा को वोट नहीं" यह आवाज प्रदेश के कोने कोने से निकलनी शुरू हो चुकी है।

 

इसे भी पढ़ें: हार के बाद बोले SRH कप्तान केन विलियमसन, टीम अच्छी शुरूआत नहीं कर सकी  

सर्वदलीय निषाद कश्यप यूनियन पूरे प्रदेश में निषाद जागरण हेतु कार्यक्रम आयोजित कर रही है, संतकबीरनगर में यूनियन का यह 33 वें जिले का आयोजन था। यूनियन के संयोजक कुंवर सिंह निषाद ने भाजपा से अपने सैकड़ो समर्थकों के साथ इस्तीफा देकर अपने समाज के लिये अनुसूचित जाति आरक्षण का लाभ दिलाने के लिये 11 जुलाई को मथुरा से आरक्षण पदयात्रा का आरंभ किया था, वाराणसी में यात्रा निकालने को लेकर पुलिस के साथ टकराव और मारपीट हुई थी जिसमें 11लोगों के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज हुआ था, यूनियन को प्रदेशभर में निषाद कश्यप बिंद समाज का जोरदार समर्थन मिल रहा है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...