गोरखपुर: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नगर निगम की योजनाओं का किया निरीक्षण, दिए कई अहम निर्देश

गोरखपुर: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नगर निगम की योजनाओं का किया निरीक्षण, दिए कई अहम निर्देश

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा महापौर सहित पार्षदों के साथ बैठक कर कोविड-19 के रोकथाम हेतु कार्य योजना पर दिये गये आवश्यक निर्देश

गोरखपुर । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा नगर निगम सदन हाल में पटरी रेहड़ी (स्ट्रीट वेण्डरों) कोविड-19 विशेष टीकाकरण अभियान के वेक्सिनेशन सेन्टर का निरीक्षण किया गया। जिसमें उपस्थित अधिकारियों कर्मचारियों द्वारा बताया गया कि 228 लोगों का टीकाकरण किया गया है जिस पर निर्देशित किया गया कि जबतक अन्तिम व्यक्ति तक टीकाकरण न हो जाए इसी प्रकार अभियान चलाकर टीकाकरण की कार्यवाही किया जाए। उप सभापति का कक्ष आबर्जवर रूम बनाया गया था वहां भी गये निरीक्षण करने के उपरान्त महापौर सीताराम जायसवाल के कक्ष में बैठक कर महापौर नगर आयुक्त एवं अन्य अधिकारियों से महानगर के चतुर्दिक विकास पर चर्चा की गई। 

इसे भी पढ़ें: काम में लाएं तेजी, गुणवत्ता से न हो समझौता: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 

इसके अलावा नगर निगम में 32 ग्राम जो सम्मिलित किये गये हैं उसके सम्बन्ध में महापौर द्वारा मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि उक्त सम्मिलित ग्रामों के विकास जैसे सड़क निर्माण कार्य, नाला/नाली निर्माण कार्य, पथ प्रकाश, शुद्ध पेयजल की समस्या के समाधान हेतु नगर निगम द्वारा योजना तैयार कर शासन को प्रेषित की गयी है| जिसकी शीघ्र स्वीकृति प्रदान करते हुए धन अवमुक्त कराने की कृपा करें। जिस पर मुख्यमंत्री द्वारा शीघ्र कार्यवाही करने का आश्वासन दिया गया। साथ ही शहर के भीतरी वार्डो में सड़क आदि कार्य योजना जो शासन में प्रेषित है उसे भी शीघ्र स्वीकृत कराते हुए धनआवंटित कराया जाएगा।

मुख्यमंत्री द्वारा निर्देशित किया गया कि महानगर में जो भी सड़के क्षतिग्रस्त है उसे पुनः सूचीबद्ध करते हुए परियोजना तैयार कर शीघ्र प्रेषित किया जाए जिससे उन सड़कों आदि का भी निर्माण कराने हेतु स्वीकृति प्रदान की जा सके। मुख्यमंत्री द्वारा महानगर को स्वच्छ, सुन्दर बनाने के उद्देश्य से नगर निगम, गोरखपुर को 20 अदद काम्पेक्टरयुक्त वाहन भेजकर जिसकी लागत लगभग 6.00 करोड़ है। उन वाहनों को अपने हाथ से चाभी सौंप कर हरी झण्डी दिखाकर नगर वासियों को भेट स्वरूप रवाना किया गया। इस मशीन के द्वारा 4 ट्रैक्टर कूड़ा कम्प्रेस करके एक ट्रैक्टर किया जाएगा। जिससे अधिक से अधिक कूड़े का उठान सम्भव हो सकेगा। तत्पश्चात उसी मंच से पंजाब एण्ड सिन्ध बैंक के द्वारा नगर निगम के सभी कर्मचारियों का वेतन खाता खोलने पर 20 लाख रुपए के एक्सीडेन्टल बीमाकवर का प्रमाण पत्र दो कर्मचारियों को मुख्यमंत्री द्वारा दिया गया। 

इसे भी पढ़ें: युवा कांग्रेसियों ने फूंका सीएम का पुतला, मांगा इस्तीफा 

मुख्यमंत्री द्वारा पूर्व में स्वीकृत किये गये नगर निगम के नये भवन/सदन भवन के निर्माण का निरीक्षण भी किया गया उपस्थित सीएनडीएस के प्रोजेक्ट मैनेजर को निर्देशित किया गया कि यह भवन नवम्बर, 2021 माह के अन्त तक प्रत्येक दशा में पूर्ण कर लिया जाए। उक्त अवसर पर महापौर सीताराम जायसवाल, उप सभापति ऋषि मोहन वर्मा, पार्षद बृजेश सिंह छोटू, राजेश तिवारी, विशेन, जितेन्द्र कुमार चौधरी 'जीतू', रंणजय सिंह 'जूगूनू' एवं समस्त पार्षदगण, मण्डलायुक्त रवि कुमार एनजी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार, मुख्य विकास अधिकारी इन्द्रजीत सिंह, नगर आयुक्त अविनाश सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी दीवाकर पाण्डेय, अपर नगर आयुक्त डी.के. सिन्हा, उप नगर आयुक्त संजय शुक्ला, मुख्य अभियन्ता सुरेश चन्द्र, कर्नल सी.पी. सिंह, सहायक नगर आयुक्त वैभव त्रिपाठी, परियोजना अधिकारी डूडा विकास सिंह, नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मुकेश कुमार रस्तोगी, उप नगर स्वास्थ्य अधिकारी अखिलेश कुमार श्रीवास्तव, महापौर के पीए मोहम्मद आरिफ सिद्दीक़ी, नगर आयुक्त पीए रामनरेश नागवंशी, स्टेनो बृजेश तिवारी, अधिशाषी अभियन्ता देवेन्द्र कुमार, सहा. अभियन्ता अशोक कुमार सिंह, संजय वर्मा, एस.बी. तिवारी, मुख्य कर निर्धारण अधिकारी कुमार असीम रंजन, कार्यालय अधीक्षक महेन्द्र कुमार वर्मा, पवन मिश्रा, पीआरओ अजय श्रीवास्तव, दीपक श्रीवास्तव उपस्थित रहे।

गोरखपुर एनेक्सी भवन, तारामण्डल में अपरान्ह 2.00 बजे मुख्यमंत्री द्वारा महापौर और पार्षदों के साथ एक बैठक की गयी। बैठक में मुख्यमंत्री द्वारा आगामी कोविड-19 बीमारी के फैलने के सम्पूर्ण रोकथाम हेतु उपस्थित सभी पार्षदों को एवं मनोनित पार्षदों को निर्देशित किया गया कि स्वच्छता पर विशेष ध्यान देते हुए अपने निर्देशन में सफाई अभियान, सैनेटाइजेशन एवं स्वास्थ्य केन्दों को जाने वाले मार्गों को गुणवत्तापूर्ण बनवाने एवं जलनिकासी की समुचित व्यवस्था के साथ स्वास्थ्य केन्द्रों की साफ-सफाई एवं उसमें तैनात कर्मियों के समय से कार्य स्थल पर उपस्थिति के साथ ही उस क्षेत्र के नागरिकों के प्रति व्यवहार कुशल होकर सेवा भाव से अपने दायित्वों का निर्वहन करें, जिसके लिए पार्षद एवं निगरानी समिति में चयनित किये गये लोग प्रायः उसपर नजर रखें एवं समय-समय पर अपना मार्गदर्शन भी देते रहें। जिससे आम जनता को स्वास्थ्य सेवाएं बेहतर मिल सके तथा संक्रामक रोग न फैले एवं कोविड-19 से कम से कम लोग प्रभावित हों। जो प्रभावित हों उनका सही समय पर ईलाज हो सके ताकि संक्रमित व्यक्ति शीघ्र ठीक हो सके। 

इसे भी पढ़ें: भाजपा के जिला और क्षेत्र के पदाधिकारियों से रूबरू हुए मुख्यमंत्री 

यह भी निर्देशित किया गया कि नगर निगम के अधिकारी कर्मचारी भी सजग होकर अपने दायित्वों का निर्वहन करेंगे साथ ही मुख्यमंत्री द्वारा, महापौर सीताराम जायसवाल के साथ ही अधिकारियों एवं कर्मचारियों के साथ ही पार्षदों की भी सराहना की गयी कि आप सब ने टीम भावना के रूप में जिस प्रकार से सैनेटाइजेशन, सफाई, फॉगिंग एवं अन्य संक्रामक रोग, कोविड-19 फैलने पर युद्ध स्तर पर अभूतपूर्व योगदान दिया है जो प्रशंसनीय है भविष्य में भी इसी प्रकार अपना योगदान देते रहेंगें।

महापौर सीताराम जायसवाल ने बैठक में मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि जिन नगर निगम के कर्मचारियों द्वारा दाह संस्कार में प्राण की परवाह न करते हुए कोविड संक्रमित व्यक्तियों के शवों की दाह संस्कार निःशुल्क कुशलतापूर्वक किया गया उन्हें पुरस्कृत करना भी उनके उत्सावर्धन के लिए आवश्यक है। जिसपर मुख्यमंत्री द्वारा आश्वासन दिया गया। उपरोक्त के अतिरिक्त महापौर ने नगर निगम द्वारा संचालित कान्हा उपवन के सम्बन्ध में अवगत कराया कि क्षमता से अधिक लगभग 1125 गो-वंश हैं, जिनको महाराजगंज स्थित मधवलिया गो सदन को हस्तान्तरित कर दिया जाए साथ ही एक नए कान्हा उपवन निर्माण कराने की आवश्यकता व्यक्त की गयी। 

इसे भी पढ़ें: युवाओं ने जताया PM मोदी का आभार, अब वैक्सीन रजिस्ट्रेशन की अनिवार्यता समाप्त 

बैठक का संचालन ऋषिमोहन वर्मा, उपसभापति ने किया, क्षेत्रीय अध्यक्ष डा. धमेन्द्र सिंह, भाजपा महानगर अध्यक्ष राजेश गुप्ता द्वारा उपस्थित पार्षदों का स्वागत किया गया। बैठक में मुख्य रूप से सन्तराज शर्मा, बृजेश सिंह छोटू, राजेश, रिंकी देवी, राधेश्याम रावत, ऋषिमोहन वर्मा, राजेन्द्र कुमार तिवारी, रामभुआल कुशवाहा, अभिषेक कुमार निषाद, चन्द्रशेंखर सिह, आलोक कुमार, जितेन्द्र कुमार सैनी, बब्लू प्रसाद गुप्ता ‘छठी लाल‘ , मनु जायसवाल, आनंद वर्धन, संजय श्रीवास्तव, देवेन्द्र कुमार गौड पिन्टू, मु0 एहतेराम हुसैन, चन्द्रप्रकाश सिह ‘गोली सिंह‘, अजय राय, ओम प्रकाश शर्मा, मदन लाल गुप्ता, उमेश चन्द्र श्रीवास्तव, अशोक मिश्रा, जितेन्द्र चैधरी जीतू, वीरसिंह सोनकर, धर्मदेव चैहान, लक्ष्मण नारंग, रणंजय सिंह ‘जूगूनू‘ उपस्थित रहे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।