कोविड-19 संक्रमण पर बोलीं तेलंगाना की राज्यपाल, हालात काबू में हैं

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 27, 2020   10:06
कोविड-19 संक्रमण पर बोलीं तेलंगाना की राज्यपाल, हालात काबू में हैं

राज्यपाल ने कहा, ‘‘मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव की सरकार संक्रमण को काबू करने के लिए हर संभव कोशिश कर रही है। संक्रमण नियंत्रण में है। संक्रमण के मामले बढ़ नहीं रहे हैं।

नयी दिल्ली। तेलंगाना की राज्यपाल तमिलसाई सुंदरराजन ने कहा है कि राज्य सरकार कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए हर संभव कोशिश कर रही है और स्थिति नियंत्रण में है। राज्यपाल ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से संक्रमण के मामलों का ग्राफ नीचे आया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार तेलंगाना में अब तक कोविड-19 के 1,002 मामले सामने आए हैं जिनमें से 280 लोग उपचार के बाद स्वस्थ हो चुके हैं और 26 लोगों की मौत हो चुकी है। सुंदरराजन एक चिकित्सक भी हैं। उन्होंने बताया कि राज्य के 33 में से तीन जिलों में पिछले कुछ दिनों में कोई नया मामला सामने नहीं आया है। 

इसे भी पढ़ें: देश में कोरोना से अब तक 779 लोगों की मौत, संक्रमण के मामले बढ़ कर 24,942 हुए: स्वास्थ्य मंत्रालय

राज्यपाल ने कहा, ‘‘मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव की सरकार संक्रमण को काबू करने के लिए हर संभव कोशिश कर रही है। संक्रमण नियंत्रण में है। संक्रमण के मामले बढ़ नहीं रहे हैं। उन्होंने बताया कि जिन तीन जिलों में संक्रमण के अधिक मामले सामने आए हैं, सरकार ने उनमें सचिव स्तर के कुछ भारतीय प्रशासनिक अधिकारियों को संक्रमण को रोकने के प्रयासों पर निगरानी रखने का काम सौंपा है। राज्यपाल ने इस संक्रमण को रोकने के लिए राज्य सरकार की मदद करने और उसके साथ मिलकर काम करने के लिए केंद्र सरकार का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने डीआरडीओ द्वारा विकसित किए गए मोबाइल वायरोलॉजी रिसर्च एंड डायग्नोस्टिक लैबोरेट्री (एमवीआरडीएल) का अनावरण वीडियो लिंक के जरिए किया। सुंदरराजन ने कहा कि हैदराबाद में ईएसआई अस्पताल इस परियोजना में राज्य प्राधिकारियों के साथ मिलकर काम करेगा और इस प्रयोगशाला में एक दिन में एक हजार जांच हो सकती है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।