• तीन सदस्यीय समिति के समक्ष अमरिंदर ने क्या कहा ? हरीश रावत ने दी इसकी जानकारी

कांग्रेस की तीन सदस्यीय समिति में शामिल हरीश रावत ने बताया कि कैप्टन अमरिंदर सिंह कमेटी के सामने आए और उन्होंने जो जानकारी दी उनका सीधा संबंध समाज के कमजोर तबकों से है।

नयी दिल्ली। कांग्रेस की तीन सदस्यीय समिति ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ पंजाब में जारी घमासान को लेकर चर्चा की। इस बैठक में नवजोत सिंह सिद्धू द्वारा दिए जा रहे बयानों की भी चर्चा हुई। कांग्रेस की तीन सदस्यीय समिति में शामिल हरीश रावत ने बताया कि कैप्टन अमरिंदर सिंह कमेटी के सामने आए और उन्होंने जो जानकारी दी उनका सीधा संबंध समाज के कमजोर तबकों से है। 

इसे भी पढ़ें: सिद्धू के बयानों से कैप्टन नाराज, डिप्टी सीएम बनाने के पक्ष में भी नहीं: सूत्र 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक कांग्रेस नेता हरीश रावत ने बताया कि कैप्टन अमरिंदर सिंह कमेटी के सामने आए और उन्होंने जो जानकारी दी उनका सीधा संबंध समाज के कमजोर तबकों से है। उन्होंने बिजली में रियायत देने की बात कही है, वर्षों से अस्थाई लोगों को नियमित करने की बात कही है।

उन्होंने कहा कि अमरिंदर सिंह ने सफाईकर्मियों को नियमित करने के आदेश देने की बात कही। दलितों, भूमिहीनों और गरीबों के कर्ज माफ करने की बात कही है। उन्होंने कहा कि छात्र-छात्राओं की स्कॉलरशिप बांटना प्रारंभ कर दिया गया है और शिक्षण संस्थाओं को कह दिया गया है कि सुनिश्चित करेंगे कि उन तक पहुंचे। आपको बता दें कि हरीश रावत ने पंजाब में जारी घमासान को लेकर कोई बात नहीं कही। 

इसे भी पढ़ें: अमरिंदर से मुलाकात पर बोले खड़गे, सोनिया और राहुल के नेतृत्व में सब मिलकर लड़ेंगे चुनाव 

इससे पहले उन्होंने एक समाचार चैनल के साथ बातचीत में कहा था कि ऐसा बयान देने से बचना चाहिए जिससे पार्टी के भीतर का माहौल खराब होता हो। उन्होंने यह बात नवजोत सिंह सिद्धू से जुड़े हुए एक सवाल के जवाब में दिया था।