भोपाल पहुंचे छत्तीसगढ़ सरकार के स्वास्थ्य मंत्री, विभिन्न विषयों पर की मीडिया से चर्चा

भोपाल पहुंचे छत्तीसगढ़ सरकार के स्वास्थ्य मंत्री, विभिन्न विषयों पर की मीडिया से चर्चा

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि बंद कमरे में जो बात होती है उसे सार्वजनिक नहीं करना चाहिए। हर दल में परिवर्तन की परिस्थिति बनी रहती है।

भोपाल।  छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री की कुर्सी को लेकर पेच फसी हुई है। इसी कड़ी में भोपाल पहुंचे छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि ढाई-ढाई साल को लेकर आलाकमान फैसला लेगा, मामला उनके संज्ञान में है।

इसे भी पढ़ें:भोपाल में फिर लागू रहेगा नाईट कर्फ्यू , कलेक्टर ने जारी किया आदेश 

आपको बता दें कि स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि बंद कमरे में जो बात होती है उसे सार्वजनिक नहीं करना चाहिए। हर दल में परिवर्तन की परिस्थिति बनी रहती है। पंजाब और त्रिपुरा में नेतृत्व परिवर्तन देखा। उन्होंने कहा कि हाईकमान के स्पष्ट निर्णय लेने में थोड़ा इंतजार करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें:पूर्व मुख्यमंत्री ने खराब सड़को को लेकर बीजेपी सरकार पर कसा तंज, बीजेपी ने किया पलटवार 

वहीं लखीमपुर खीरी नहीं जाने पर टीएस सिंहदेव ने कहा कि भूपेश बघेल इसलिए गए हैं कि उन्हें यूपी का सीनियर ऑब्जर्वर बनाया गया है। मुझे जहां भेजा जाता है वहां मैं जाता हूं। उत्तर प्रदेश भेजा जाएगा तो जाऊंगा।  टीएस बाबा ने कहा कि यूपी में मुआवजा वहां की स्थिति के हिसाब से दिया गया। छत्तीसगढ़ के हिसाब से मुख्यमंत्री फैसला लेंगे वो समझदार हैं। छत्तीसगढ़ सरकार मुआवजा जो पहले देती थी उसे भी बढ़ाया गया है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।