हिमंत बिस्वा सरमा की हुंकार, कहा- वह दिन भी दूर नहीं जब मिट जाएगा ओवैसी और निजाम का नाम

हिमंत बिस्वा सरमा की हुंकार, कहा- वह दिन भी दूर नहीं जब मिट जाएगा ओवैसी और निजाम का नाम

हिमंत ने अपने बयान में कहा कि भारत का इतिहास कहता है कि अब बाबर औरंगजेब और निजाम का नाम ज्यादा दिन तक नहीं रहने वाला है। मुझे यकीन है कि निजाम की विरासत पूरी तरह से समाप्त हो जाएगी और भारतीय सभ्यता के आधार पर एक नई संस्कृति का उदय होगा।

तेलंगाना में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष गिरफ्तारी को लेकर भगवा दल का विरोध प्रदर्शन लगातार जारी है। इन सब के बीच आज वहां असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा पहुंचे थे। हिमंत बिस्वा सरमा ने हुंकार भरते हुए कहा कि भारत को कोई रोकने वाला नहीं है। जैसे अनुच्छेद 370 खत्म किया गया, राम मंदिर का निर्माण शुरू कराया गया, वह दिन भी दूर नहीं है जब निजाम का नाम, ओवैसी का नाम यहां से मिट जाएगा। हिमंत बिस्वा सरमा ने नया तेलंगाना बनाने का दावा भी किया। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि आप अन्याय के खिलाफ लड़ते रहिए। कुछ भी हो इससे समझौता करने की आवश्यकता नहीं है।

हिमंत ने अपने बयान में कहा कि भारत का इतिहास कहता है कि अब बाबर, औरंगजेब और निजाम का नाम ज्यादा दिन तक नहीं रहने वाला है। मुझे यकीन है कि निजाम की विरासत पूरी तरह से समाप्त हो जाएगी और भारतीय सभ्यता के आधार पर एक नई संस्कृति का उदय होगा। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि जब भी कोई तानाशाह सीएम या पीएम बनता है तो देश में आपातकाल जैसी स्थिति पैदा हो जाती है। हमें इसके खिलाफ लड़ते रहना है और इसका परिणाम एक दिन हम सबके सामने आएगा।

इसे भी पढ़ें: प्रधानमंत्री की ‘सुरक्षा में चूक’ के लिए कांग्रेस को चन्नी को बर्खास्त करना चाहिए : हिमंत

हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि कष्ट और परिश्रम का फल हमेशा मीठा होता है। इसी कष्ट और हमले से एक नए तेलंगाना का निर्माण होगा। हमें अपना काम और मकसद पूरा करते के लिए लड़ते रहना है। उन्होंने कहा कि यहां के मुख्यमंत्री को यहां की जनता जवाब देगी। इससे पहले शिवराज सिंह चौहान ने तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव पर जमकर निशाना साधा था। शिवराज ने कहा था कि मैं समझता था के. चंद्रशेखर राव दमदार आदमी है परन्तु वे तो दुमदार निकले। इतना डरा हुआ मुख्यमंत्री मैंने आज तक नहीं देखा... ये इतना डरा हुआ है कि हमारे अध्यक्ष(तेलंगाना भाजपा प्रमुख) को जेल में डाल देता है, ये कायर आदमी करता है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।