दिल्ली से लौटकर बोले कैप्टन अमरिंदर, सिद्धू जहां से भी लड़ेंगे चुनाव, मैं उन्हें जीतने नहीं दूंगा

दिल्ली से लौटकर बोले कैप्टन अमरिंदर, सिद्धू जहां से भी लड़ेंगे चुनाव, मैं उन्हें जीतने नहीं दूंगा

पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर ने कहा कि मैं कांग्रेस में नहीं रहूंगा और न ही मैं भाजपा में शामिल हो रहा हूं। उन्होंने कहा कि मैंने पहले भी कहा है कि सिद्धू पंजाब के लिए सही आदमी नहीं है, वो जहां से भी लड़ेगा मैं उसे नहीं जीतने दूंगा।

चंडीगढ़। पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने एक बार फिर नवजोत सिंह सिद्धू पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि सिद्धू पंजाब के लिए अच्छा आदमी नहीं है। ऐसे में वो जहां से भी लड़ेगा, मैं उसे जीतने नहीं दूंगा। दरअसल, कैप्टन अमरिंदर सिंह दो दिवसीय दिल्ली यात्रा पर गए थे और मोहाली वापस आने के तुरंत बाद ही उन्होंने सिद्धू को घेर लिया। 

इसे भी पढ़ें: Prabhasakshi's Newsroom । लौटकर सिद्धू घर को आए, अमरिंदर ने कहा Bye Bye 

पंजाब के लिए सिद्धू सही नहीं

कैप्टन अमरिंदर ने कहा कि मैं कांग्रेस में नहीं रहूंगा और न ही मैं भाजपा में शामिल हो रहा हूं। उन्होंने कहा कि मैंने पहले भी कहा है कि सिद्धू पंजाब के लिए सही आदमी नहीं है, वो जहां से भी लड़ेगा मैं उसे नहीं जीतने दूंगा। उन्होंने कहा कि फ्लोर टेस्ट विधानसभा अध्यक्ष को देखना है, अगर ऐसे हालात बन जाते हैं कि कोई पार्टी बहुमत खो देती है तो अध्यक्ष फैसला करता है। ये मेरा काम नहीं है। 

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि अफसर हटाने का काम प्रधान का नहीं है, अफसर को मुख्यमंत्री लगाता, हटाता और बदलता है। मेरे 9.5 साल के मुख्यमंत्री के कार्यकाल में कई प्रधान रहे हैं, हमारी एक-दूसरे से बातचीत होती थी। लेकिन कभी ये हाल नहीं थे जो सिद्धू ने बनाए हैं। दरअसल, सिद्धू ने चन्नी के खिलाफ भी मोर्चा खोल दिया है और उनके द्वारा की गई नियुक्तियों से नाराज होकर प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। हालांकि गुरुवार को करीब 2 घंटे तक चली बैठक में सुलह का फॉर्मूला तैयार हो गया है। 

इसे भी पढ़ें: किस्सा कुर्सी का ! कपिल शर्मा शो में लौटे नवजोत सिंह सिद्धू तो कुर्सी छोड़ देगीं अर्चना पूरन सिंह 

गौरतलब है कि दो दिवसीय दिल्ली दौरे यात्रा के दौरान कैप्टन अमरिंदर सिंह ने गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने बताया था कि केंद्रीय कृषि कानूनों को लेकर अमित शाह से और पंजाब के सुरक्षा संबंधी मुद्दों को लेकर एनएसए चीफ से मुलाकात की है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।