जवाबी हमले का दुस्साहस किया तो पूरा पाकिस्तान कब्रिस्तान बन जायेगा: भाजपा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 26, 2019   18:25
जवाबी हमले का दुस्साहस किया तो पूरा पाकिस्तान कब्रिस्तान बन जायेगा: भाजपा

विजयवर्गीय ने हालांकि कहा कि पाकिस्तान भारत पर हमला नहीं कर सकता, क्योंकि अब वह आक्रमण करने की स्थिति में ही नहीं है।

इंदौर। नियंत्रण रेखा के पार आतंकी शिविरों पर भारतीय वायु सेना की कार्रवाई पर प्रसन्नता जाहिर करते हुए भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने मंगलवार को कहा कि अगर पाकिस्तान ने जवाबी हमले का दुस्साहस किया, तो पूरा पड़ोसी मुल्क कब्रिस्तान बन जायेगा। विजयवर्गीय ने यहां एक कार्यक्रम में कहा,  मैं इस कार्यक्रम में आने के दौरान अपने मोबाइल पर समाचार देख रहा था। कुछ लोग कह रहे थे कि (नियंत्रण रेखा के पार आतंकी शिविरों पर भारतीय वायु सेना की कार्रवाई के बाद) पाकिस्तान (जवाबी) हमला कर सकता है क्या?  

भाजपा महासचिव ने इस प्रश्न का खुद जवाब देते हुए कहा,  अभी तो छोटा-सा कब्रिस्तान बना है। लेकिन अगर पाकिस्तान (जवाबी) हमला करेगा, तो भारत की सैन्य शक्ति ऐसी है कि पूरा पाकिस्तान कब्रिस्तान बन जायेगा।  विजयवर्गीय ने हालांकि कहा कि पाकिस्तान भारत पर हमला नहीं कर सकता, क्योंकि अब वह आक्रमण करने की स्थिति में ही नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि नियंत्रण रेखा के पार आतंकी शिविरों पर भारतीय वायुसेना की शौर्यपूर्ण कार्रवाई पर आज हर भारतीय गौरवान्वित है। 

इसे भी पढ़ें: मोदी नहीं होंगे RSS की तरफ से PM पद के उम्मीदवार, गडकरी के नाम पर हो रही है चर्चा

विजयवर्गीय ने कहा,  दुश्मन देश की सीमा में घुसकर हमला करने के बाद सकुशल वापसी का साहसिक कारनामा दुनिया में अमेरिका और इजराइल जैसे दो-तीन देश ही कर पाते हैं। आज भारत इन देशों की श्रेणी में शामिल हो गया है।  भाजपा महासचिव, कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ईएसआईसी) के 300 बिस्तरों वाले अस्पताल के शिलान्यास समारोह को सम्बोधित कर रहे थे. इस मौके पर लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन और केंद्रीय श्रम और रोजगार राज्य मंत्री (स्वतन्त्र प्रभार) संतोष कुमार गंगवार भी मौजूद थे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।