• कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध मार्च के मद्देनजर दिल्ली में आने-जाने के मार्ग बदले गये

केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के विरोध में शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के सदस्यों द्वारा विरोध मार्च के आयोजन के मद्देनजर दिल्ली यातायात पुलिस ने शुक्रवार को यात्रियों को बंद मार्गों के बारे में जानकारी दी और परेशानी से बचने के लिए मार्ग परिवर्तन का सुझाव दिया।

नयी दिल्ली। केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के विरोध में शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के सदस्यों द्वारा विरोध मार्च के आयोजन के मद्देनजर दिल्ली यातायात पुलिस ने शुक्रवार को यात्रियों को बंद मार्गों के बारे में जानकारी दी और परेशानी से बचने के लिए मार्ग परिवर्तन का सुझाव दिया। दिल्ली यातायात पुलिस ने ट्विटर के जरिए लोगों को सूचित किया कि झारोड़ा कलां सीमा पर मार्ग बंद हैं और यात्रियों से कहा कि वे किसानों के आंदोलन के मद्देनजर इन मार्गों पर जाने से बचें।

इसे भी पढ़ें: विपक्ष पर भड़के अजय चौटाला, बोले- दुष्यंत चौटाला क्यों इस्तीफा दें, क्या उन्होंने कृषि कानून बनाया है?

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘शिरोमणि अकाली दल के सदस्य कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध मार्च के आयोजन के मद्देनजर शुक्रवार सुबह गुरुद्वारा रकाब गंज पर एकत्रित हुए।’’ शिअद ने पार्टी अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल की अगुवाई में केंद्र सरकार के ‘किसान विरोधी’ कानूनों के खिलाफ गुरुद्वारे से संसद भवन तक मार्च निकालने का आह्वान किया था। यातायात पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि किसानों द्वारा प्रदर्शन करने और गुरुद्वारा रकाब गंज में एकत्रित होने का आह्वान करने के कारण दिल्ली में विभिन्न इलाकों में एहतियाती तौर पर पुलिस पिकट लगाई गईं और वाहनों को जांच के बाद ही जाने दिया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें: यूपी के कई जिलों और दिल्ली एनसीआर में भारी बारिश के आसार : CM योगी का आदेश-प्रदेश के सभी स्कूल-कॉलेज रहेंगे बंद

प्रदर्शनकारियों ने गुरुद्वारा रकाब गंज से संसद तक मार्च निकालने का आह्वान किया था। दिल्ली पुलिस ने हिंदी में ट्वीट किया, ‘‘गुरुद्वारा रकाब गंज रोड, आरएमएल अस्पताल, जीपीओ, अशोक रोड, बाबा खड़ग सिंह मार्ग पर किसान आंदोलन के कारण भीड़भाड़ होगी अत: इन मार्गों का इस्तेमाल करने से कृपया बचें।’’ पुलिस के मुताबिक सरदार पटेल मार्ग से धौला कुआं मार्ग भी बंद है। उसने मार्ग परिवर्तन अन्य संबंधी जानकारी भी दी।