गुजरात : केजरीवाल ने दलित व्यक्ति को परिवार सहित दिल्ली में भोज पर आमंत्रित किया

Arwind
प्रतिरूप फोटो
ANI
दलित समुदाय के सफाई कर्मचारियों के साथ ‘टाउन हॉल’ बैठक के दौरान हर्ष सोलंकी नामक व्यक्ति ने कहा कि उसने हाल में केजरीवाल को अहमदाबाद में एक बैठक के दौरान ऑटोरिक्शा चालक के रात्रि भोज के निमंत्रण को स्वीकार करते हुए देखा था तथा उसने पूछा कि क्या केजरीवाल भोजन के लिए उनके घर आएंगे।

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने गुजरात के एक दलित व्यक्ति और उसके परिवार को राष्ट्रीय राजधानी में भोज पर आमंत्रित किया। यहां मुख्यत: दलित समुदाय के सफाई कर्मचारियों के साथ ‘टाउन हॉल’ बैठक के दौरान हर्ष सोलंकी नामक व्यक्ति ने कहा कि उसने हाल में केजरीवाल को अहमदाबाद में एक बैठक के दौरान ऑटोरिक्शा चालक के रात्रि भोज के निमंत्रण को स्वीकार करते हुए देखा था तथा उसने पूछा कि क्या केजरीवाल भोजन के लिए उनके घर आएंगे।

इस पर केजरीवाल ने सोलंकी से कहा कि वह अहमदाबाद के अगले दौरे पर भोजन करने के लिए उनके घर आएंगे तथा साथ ही उन्होंने सोलंकी और उनके परिजनों को दिल्ली में उनके आवास पर भोज के लिए आमंत्रित किया। सोलंकी ने कहा कि उन्हें यह देखकर खुशी हुई कि केजरीवाल दलित समुदाय के पास आ रहे हैं जिसका उन्होंने दावा किया कि आजादी के बाद किसी और नेता ने ऐसा नहीं किया है।

सोलंकी ने कहा, ‘‘आपको देखकर हमें उम्मीद होती है कि कोई हमारे लिए खड़ा है और सर, मैं आपसे एक अनुरोध करना चाहूंगा। क्या आप एक दलित के घर आएंगे जैसे कि आप यहां 15-20 दिन पहले अपने दौरे पर एक ऑटोरिक्शा चालक के घर गए थे।’’ इसके जवाब में दिल्ली के मुख्यमंत्री ने पूछा, ‘‘मैंने देखा है कि हर नेता दिखावे के लिए भोजन करने किसी दलित के घर जाता है। आज तक किसी नेता ने दलित को भोजन के लिए अपने घर आमंत्रित नहीं किया। क्या आप भोजन करने के लिए मेरे घर आएंगे।’’

सोलंकी ने तुरंत उनका प्रस्ताव मंजूर कर लिया। केजरीवाल द्वारा सोलंकी के परिवार के बारे में पूछे जाने पर उसने कहा कि वह अपने भाई, बहन और माता-पिता के साथ रहता है, जिसके बाद केजरीवाल ने कहा कि वह पांचों लोगों के दिल्ली आने के लिए विमान की टिकट भेजेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘आप और आपका परिवार दिल्ली के मुख्यमंत्री के आवास पर सोमवार को एक साथ भोजन करेंगे। अगली बार जब भी मैं अहमदाबाद आऊंगा तो मैं आपके घर जाऊंगा।’’

इस मौके पर पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा कि सोलंकी तथा उनके परिवार को राष्ट्रीय राजधानी के दौरे पर पंजाब भवन में ठहराया जाएगा। केजरीवाल ने टाउन हॉल के आयोजन स्थल के समीप दलित बच्चों द्वारा चलाए जाने वाले एक पुस्तकालय के नामकरण का न्योता भी स्वीकार कर लिया। बैठक को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि एक कांग्रेस नेता के कार्यालय में सोनिया गांधी और राहुल गांधी की तस्वीरें लगी हैं जबकि भाजपा नेता के कार्यालय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर लगी है।

उन्होंने कहा, ‘‘जब आप आम आदमी पार्टी के किसी नेता के कार्यालय में जाते हैं तो आपको केजरीवाल या मान की तस्वीरें नहीं दिखेंगी बल्कि बाबासाहेब आंबेडकर की तस्वीरें दिखेंगी। ‘आप’ इकलौती पार्टी है जो आंबेडकर द्वारा दिखाए मार्ग पर चल रही है। पिछले 75 वर्षों में बाबासाहेब का सपना साकार नहीं हुआ है लेकिन मैंने उनका सपना साकार करने का संकल्प लिया है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़