भारत दुनिया में सबसे बड़ा लोकतंत्र, लेकिन आज भी 33% लोग मतदान में हिस्सा नहीं लेते: सीग्रीवाल

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 12 2019 6:36PM
भारत दुनिया में सबसे बड़ा लोकतंत्र, लेकिन आज भी 33% लोग मतदान में हिस्सा नहीं लेते: सीग्रीवाल
Image Source: Google

भाजपा सदस्य ने कहा कि दुनिया में 32-33 देशों में अनिवार्य मतदान करने का कानून है जिनमें आस्ट्रेलिया, अर्जेंटीना, बुल्गारिया, ब्राजील, चिली, फिजी, मिस्र, मैक्सिको, सिंगापुर, स्विट्जरलैंड और तुर्की जैसे देश शामिल हैं । ऐसे में इस विषय पर ध्यान दिया जाना चाहिए।

नयी दिल्ली। लोकसभा में भाजपा सदस्य जनार्दन सिंह सीग्रीवाल ने शुक्रवार को कहा कि भारत दुनिया में सबसे बड़ा लोकतंत्र है लेकिन आज भी करीब 33 प्रतिशत लोग मतदान में हिस्सा नहीं लेते हैं, ऐसे में देश में मतदाताओं के लिये अनिवार्य मतदान सुनिश्चित करने का कानून बनाया जाना जरूरी है। निचले सदन में गैर सरकारी सदस्यों के कार्य के तहत सीग्रीवाल ने अपने निजी विधेयक अनिवार्य मतदान विधेयक 2019 को विचार एवं पारित होने के लिये रखते हुए कहा कि देश में समय के साथ लोकतंत्र की जीवंतता में उत्तरोत्तर वृद्धि हुई है। चुनाव आयोग ने समय समय पर चुनाव सुधार भी किये लेकिन अब भी कुछ चुनाव सुधारों की जरूरत है।

इसे भी पढ़ें: मेरा सौभाग्य है कि आषाढ़ी एकादशी के दिन मुझे जवाब देने का मौका मिलाः पीयूष गोयल

उन्होंने कहा कि इसी श्रृंखला में अनिवार्य मतदान का विषय भी शामिल है ।भाजपा सदस्य ने कहा कि 1952 में पहले चुनाव में 45.6 प्रतिशत मतदान हुआ था, 1957 में 47 प्रतिशत और 1955 में 55.42 प्रतिशत मतदान हुआ था। इसके बाद 1967, 1971, 1977, 1980, 1984, 1989, 1991, 1996, 1998 और1999 में भी मतदान का प्रतिशत कम ही रहा। उन्होंने कहा कि 2004 में 57.4 प्रतिशत, 2009 में 58 प्रतिशत, 2014 में 66.44 प्रतिशत और 2019 में 67.6 प्रतिशत मतदान हुआ। सीग्रीवाल ने कहा कि इसका अर्थ यह है कि आज भी करीब 33 प्रतिशत मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग नहीं कर रहे हैं। इतनी बड़ी संख्या में लोगों का अपने मताधिकार का प्रयोग नहीं करना चिंता का विषय है।

इसे भी पढ़ें: आयुष्मान योजना के दूसरा हिस्सा वेलनेस सेंटर से जुड़ा, डेढ़ लाख वेलनेस सेंटर बनेंगे जिसमें 19000 बनाए जा चुके हैं: डॉ हर्षवर्धन



यह प्रतिशत 90 से अधिक होना चाहिए। इसके लिये ही वह अनिवार्य मतदान का विधेयक लेकर आए हैं। उन्होंने कहा कि यह स्थिति समावेशी लोकतंत्र की मूल भावना के खिलाफ है और उसका समावेशी विकास पर भी असर पड़ता है। भाजपा सदस्य ने कहा कि दुनिया में 32-33 देशों में अनिवार्य मतदान करने का कानून है जिनमें आस्ट्रेलिया, अर्जेंटीना, बुल्गारिया, ब्राजील, चिली, फिजी, मिस्र, मैक्सिको, सिंगापुर, स्विट्जरलैंड और तुर्की जैसे देश शामिल हैं। ऐसे में इस विषय पर ध्यान दिया जाना चाहिए। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video