क्षेत्रीय सुरक्षा के लिए एक-दूसरे की संवेदनाओं को समझना आवश्यक : राजनाथ

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 28, 2020   12:26
क्षेत्रीय सुरक्षा के लिए एक-दूसरे की संवेदनाओं को समझना आवश्यक : राजनाथ

आतंकवादियों, उनके वैचारिक तथा वित्तीय नेटवर्क को खत्म करने को बेहद आवश्यक बताते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दक्षेस शिखर सम्मेलन में मंगलवार को कहा कि क्षेत्रीय सुरक्षा कायम करने के लिए एक-दूसरे की संवेदनाओं को समझना और हस्तक्षेप नहीं करने के सिद्धांतों का पालन करना आवश्यक है।

नयी दिल्ली। आतंकवादियों, उनके वैचारिक तथा वित्तीय नेटवर्क को खत्म करने को बेहद आवश्यक बताते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दक्षेस शिखर सम्मेलन में मंगलवार को कहा कि क्षेत्रीय सुरक्षा कायम करने के लिए एक-दूसरे की संवेदनाओं को समझना और हस्तक्षेप नहीं करने के सिद्धांतों का पालन करना आवश्यक है। 

इसे भी पढ़ें: अमित शाह ने केजरीवाल को शाहीनबाग जाने की चुनौती दी, कहा- मोदी सरकार राष्ट्र विरोधी को नहीं बख्शेगी

उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय शांति और सुरक्षा के लिए संयुक्त रुख अपनाने की खातिर भारत एक देश को छोड़कर अन्य पड़ोसियों के साथ संवाद कायम कर रहा है।  रक्षा मंत्री ने कहा कि एक देश को छोड़कर, जो कि वास्तव में पाकिस्तान है, क्षेत्र के देशों में दखल नहीं देने की नीति को अपनाया गया है।  उन्होंने पाकिस्तान का संदर्भ देते हुए कहा कि एक देश के बर्ताव के कारण दक्षेस की पूरी क्षमता का दोहन नहीं हो पा रहा ।

इसे भी पढ़ें: भड़काऊ भाषण देने वाले शरजील, जिस पर भिड़े शाह और केजरीवाल, पिता लड़ चुके हैं चुनाव

पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देने में भारतीय सेना पूरी तरह सक्षमः राजनाथ





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।