जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों और आतंकियों की मुठभेड़ में जैश ए मोहम्मद का आतंकी ढेर, एक पुलिसकर्मी भी शहीद, 5 घायल

जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों और आतंकियों की मुठभेड़ में जैश ए मोहम्मद का आतंकी ढेर, एक पुलिसकर्मी भी शहीद, 5 घायल

अधिकारियों ने बताया कि सुरक्षाबलों को जिले के परिवान इलाके में आतंकवादियों के छिपे होने की सूचना मिली थी जिसके बाद तलाश एवं घेराबंदी अभियान चलाया गया। आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों पर गोली चलाना शुरू कर दिया जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई।

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर में पिछले कुछ समय से आतंकी गतिविधियां तेज होती नजर आ रही हैं। सुरक्षा बल के जवान और जम्मू कश्मीर पुलिस आतंकियों को खोज कर उनका सफाया करने में लगी हुई है। जम्मू कश्मीर के कुलगाम जिले में बुधवार को सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच एक मुठभेड़ में जैश ए मोहम्मद का एक आतंकवादी मारा गया, इस दौरान मुठभेड़ में एक पुलिसकर्मी शहीद हो गया। इसके अलावा, तीन सैनिकों समेत पांच लोग घायल हो गए। पुलिस ने यह जानकारी दी।

इसे भी पढ़ें: परमवीर चक्र विजेता सोम नाथ शर्मा की प्रतिमा स्थापित करने के लिये 11 साल का लंबा इंतजार

 

अधिकारियों ने बताया कि सुरक्षाबलों को जिले के परिवान इलाके में आतंकवादियों के छिपे होने की सूचना मिली थी जिसके बाद तलाश एवं घेराबंदी अभियान चलाया गया। आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों पर गोली चलाना शुरू कर दिया जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई।

इसे भी पढ़ें: कोविड की दवा के दुरुपयोग और अधिक मात्रा में इस्तेमाल को लेकर केंद्र ने किया आगाह

कश्मीर जोन के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने कहा कि मुठभेड़ में एक पुलिसकर्मी शहीद हो गया और जैश ए मोहम्मद का एक आतंकी मारा गया। कुमार ने ट्वीट किया, “एक पुलिसकर्मी सेलेक्शन ग्रेड कॉन्स्टेबल रोहित छिब शहीद हो गए, जबकि सेना के तीन जवान घायल हो गए। दो आम आदमी भी घायल हुए हैं। जैश ए मोहम्मद का एक आतंकवादी मारा गया। अभियान जारी है।

सुरक्षा बलों को लगता है अभी कुछ आतंकी और वहा पर छिपे हुए हैं इस लिए ऑपरेशन अभी भी जारी है। पिछले 12 दिनों में कश्मीर में आठ मुठभेड़ों के दौरान 14 आतंकवादी मारे गए हैं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।