सीएम योगी चुनाव लड़ेंगे तो उनके सम्मान में नहीं खड़ा करेंगे प्रत्याशी: राजा भैया

सीएम योगी चुनाव लड़ेंगे तो उनके सम्मान में नहीं खड़ा करेंगे प्रत्याशी: राजा भैया

सैकड़ों गाड़ियों का काफिला लेकर अयोध्या पहुंचे प्रतापगढ़ कुंडा के रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने 2022 में प्रत्यासी उतारने का किया ऐलान

अयोध्या। रामलला व हनुमानगढ़ी का आशीर्वाद लेकर जनसत्ता दल ने अपनी जनसेवा संकल्प यात्रा का शुभारंभ किया। प्रतापगढ़ के कुंडा से सुल्तानपुर के रास्ते अयोध्या पहुंचे पूर्वमंत्री व जनसत्ता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैय्या ने मंगलवार को अयोध्या पहुचे। जहां से भगवान श्रीराम व हनुमानगढ़ी का आशीर्वाद लेकर 2022 के चनाव का आगाज किया। उनका काफिला प्रतापगढ़ के कुंडा विद्यानसभा से सुल्तानपुर के रास्ते जनपद में दाखिल हुये। जिले की सीमा कुचेरा बाजार से उनके स्वागत का शिलशिला शुरू हुआ जो खजुराहट, बीकापुर, मसौधा, नाका, पंचशील होटल के समीप जोरदार स्वागत हुआ।

इसे भी पढ़ें: राम जन्मभूमि परिसर में मनाया गया श्री कृष्ण जन्माष्टमी, 25 किलो पंचामृत के साथ फल का लगा भोग

अयोध्या में श्री रामलला व हनुमानगढ़ी का दर्शन करने के बाद 2022 का ऐलान करते हुए कहा कि यूपी के विधानसभा चुनाव में जनसत्ता दल सभी 75 सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारने जा रही है। जिसमें से यूपी की 100 सीटों पर पार्टी पूरे दमखम के साथ जीत की स्थित पैदा करेगी। उन्होंने बताया कि 15 नवम्बर 2018 को जनसत्ता दल पार्टी का गठन हुआ था  उसके बाद से कोरोना ने पूरे देश को प्रभावित कर दिया है। अब पार्टी अपने को मजबूत करेगी जिसमें युवाओं को विशेष जिम्मेदारी दी गई हैं। पार्टी का अन्य से गठबंधन के सवाल पर उन्होंने कहा कि अभी हमारी किसी भी राजनीतिक पार्टी से कोई बात नहीं हुई है हम यूपी के सभी 75 जिलों पर अपने प्रत्याशी उतारने की तैयारी है। जिसमें से यूपी की 100 सीटों पर पार्टी पूरी मजबूती के साथ चुनाव लड़ेंगी।

इसे भी पढ़ें: हाउसिंग फ़ॉर ऑल की ओर योगी सरकार ने बढ़ाया कदम, जानिए पूरा मामला

वहीं भाजपा कुछ प्रमुख सीटों को लेकर बताया कि अयोध्या विधान सभा से योगी के चुनाव लड़ते है तो यहां से जनसत्ता दल अपना कोई प्रत्याशी मैदान में नही उतारेगी उन्होंने बताया कि योगी जी के महाराज से हमारी तीन पीढ़ियों के सम्बन्द्ध है जिसे बरकरार रखना हमारा दायत्व है। उन्होंने बताया जनसेवा संकल्प यात्रा की शुरुवात अयोध्या से करने का मुख्य कारण बाल्यकाल से वह अयोध्या आते रहे है, हमारे लिये आस्था का प्रश्न है इसे राजनीति से न जोड़ा जाए। आगामी चुनाव में पार्टी मंहगाई को अपना मुद्दा बनाकर चुनाव लड़ने की तैयारी हैं। उन्होंने कहा कि चुनाव के समय जो व्यवहार प्रतिनिधि का हो वहीं चुनाव के बाद भी होना चाहिये। जनसेवा संकल्प यात्रा की शुरुवात अयोध्या से हुई जो प्रदेश के सभी जनपदों में जायेगी इस यात्रा के माध्यम से लोगों को पार्टी की नीतियों से अवगत कराना यात्रा का मुख्य मकसद है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।