BJP Foundation Day: जेपी नड्डा बोले- भाजपा ग़रीबों की पार्टी, सेवा ही हमारा लक्ष्य है

jp nadda
अंकित सिंह । Apr 06, 2022 10:47AM
भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि हमारा सौभाग्य है कि भाजपा और हमारी NDA को मिलाकर हमारी आज 18 राज्य में सरकार है। हम भाजपा को इस तरीके से प्रधानमंत्री के नेतृत्व में आगे बढ़ा रहे हैं।

भाजपा के 42वें स्थापना दिवस पर पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने दावा किया कि भाजपा गरीबों की पार्टी है और सेवा ही इसका लक्ष्य है। नड्डा ने कहा कि 42 वर्ष के इस कार्यक्रम में आज हमें उन लोगों को भी याद करना है, जो पहले जनसंघ काल से पहले दीया लेकर चले और बाद में कमल के फूल को लेकर चले। आज इस पार्टी को यशस्वी बनाने के लिए 3-3, 4-4 पीढ़ियों ने खुद को खपा दिया।आज उनकों भी याद करने का अवसर है। नड्डा ने कहा कि देश में हमारे विधायकों की संख्या 1,379 है, हमारे कार्यकर्ताओं ने दिन-रात काम किया। सेवा ही संगठन है और सेवा ही हमारा लक्ष्य है। ये पार्टी ग़रीबों की पार्टी है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि हमारा सौभाग्य है कि भाजपा और हमारी NDA को मिलाकर हमारी आज 18 राज्य में सरकार है। हम भाजपा को इस तरीके से प्रधानमंत्री के नेतृत्व में आगे बढ़ा रहे हैं। इससे पहले उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि आज स्थापना दिवस के मौके पर मैं उन सभी कार्यकर्ताओं का अभिनंदन करता हूँ, जिन्होंने भारतीय जनता पार्टी रूपी नन्हें से पौधे को अपने खून और पसीने से सींच कर एक वृक्ष बनाया। आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने अपनी दूरदर्शी सोच से उस वृक्ष को विशालकाय वट वृक्ष बना दिया है। 42वें स्थापना दिवस की राष्ट्र सेवा को समर्पित भाजपा  के असंख्य कार्यकर्ताओं को हार्दिक शुभकामनाएँ।

इसे भी पढ़ें: भाजपा के 42 साल, पीएम मोदी बोले- एक भारत, श्रेष्ठ भारत के मंत्र पर चल रही पार्टी

आपको बता दें कि अपनी स्थापना के बाद भारतीय जनता पार्टी ने पहले लोकसभा चुनाव में सिर्फ दो सीटों पर जीत हासिल की थी। आधे से अधिक प्रत्याशियों की जमानत जब्त हो गई थी। लेकिन आज बीजेपी जिस मुकाम पर है वो किसी को बताने की जरूरत नहीं है। 42 साल पहले 6 अप्रैल 1980 को अटल बिहारी वाजपेयी तथा लाल कृष्ण आडवाणी ने भारतीय जनता पार्टी की स्थापना की थी। अटल बिहारी वाजपेयी संस्थापक अध्यक्ष थे। 80 में स्थापना के बाद सन 1984 में बीजेपी ने पहला लोकसभा चुनाव लड़ा। देशभर में कुल 224 प्रत्याशी मैदान में उतरे। लेकिन बीजेपी को केवल दो सीटों पर जीत हासिल हुई। लगभग आधे यानी 108 प्रत्याशियों की जमानच जब्त हो गई। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़