कल्याण सिंह और जनरल बिपिन रावत को दिया जाएगा पद्म विभूषण, 10 विदेशी नागरिक भी किए जाएंगे सम्मानित, यहां देखें पूरी फेहरिस्त

Kalyan Singh and General Bipin Rawat
नीरज चोपड़ा, खिलाड़ी प्रमोद भगत, सुमित अंतिल, अवनी लखेरा, शिक्षाविद प्रोफेसर नजमा अख्तर सिंगर सोनू निगम समेत कुल 107 लोगों को पद्मश्री अवार्ड से नवाजा जाएगा।

सरकार द्वारा इस साल पद्म पुरस्कार से नवाजे जाने वाले नामों की घोषणा कर दी गई है। इस फेहरिस्त में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत समेत यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह का नाम भी शामिल है। आपको बता दें इन दोनों ही हस्तियों को मरणोपरांत पद्म विभूषण से सम्मानित किया जाएगा। पद्म पुरस्कार से सम्मानित किए जाने वालों में विदेशी नागरिकों के नाम भी शामिल हैं। आइए जानते हैं किन विदेशी नागरिकों को दिया जाएगा पद्म पुरस्कार।

इन विदेशी नागरिकों को पद्म भूषण सम्मान

माधुरी जाफरी: पककला, यूएसए

सत्या नडेला: व्यापार और उद्योग, यूएस

सुंदर पिचाई: व्यापार और उद्योग, यूएसए

स्वर्गीय संजय राजाराम: विज्ञान और इंजीनियरिंग, मेक्सिको

इन विदेशी नागरिकों को पद्मश्री से नवाजा जाएगा

मारिया क्रिस्टोफर बायर्सकी: साहित्य और शिक्षा, आयरलैंड

रटगर कोर्टेनहॉर्स्ट: साहित्य और शिक्षा, आयरलैंड

चिरापत प्रपंडविद्या: साहित्य और शिक्षा थाईलैंड

तातियाना शौमयान: साहित्य और शिक्षा, रूस

डॉक्टर प्रोकर दासगुप्ता: चिकित्सा, यूके

रयुको हीरा: व्यापार, उद्योग, जापान

नीरज चोपड़ा और सोनू निगम को दिया जाएगा पद्मश्री

ओलंपिक में गोल्ड जीतकर भारत का मस्तक ऊंचा करने वाले नीरज चोपड़ा, खिलाड़ी प्रमोद भगत, सुमित अंतिल, अवनी लखेरा, शिक्षाविद प्रोफेसर नजमा अख्तर सिंगर सोनू निगम समेत कुल 107 लोगों को पद्मश्री अवार्ड से नवाजा जाएगा।

17 लोगों को दिया जाएगा पद्म भूषण पुरस्कार

राजनेता गुलाम नबी आजाद, बुद्धदेव भट्टाचार्य, गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई, माइक्रोसॉफ्ट के सत्या नडेला, उद्योगपति साइरस पूनावाला, एन चंद्रशेखरन, भारत बायोटेक के कृष्णा इल्ला और चित्रा इल्ला, खिलाड़ी देवेंद्र झाझरिया प्रशासनिक अधिकारी राजीव महर्षि समेत 17 लोगों को पद्म भूषण सम्मान दिया जाएगा।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़