उदयपुर के अशोक नगर श्मशान घाट में कन्हैया लाल का अंतिम संस्कार किया गया

Kanhaiya Lal
ANI
जिले में मंगलवार को दो लोगों द्वारा धारदार हथियार से हत्या किए गए कन्हैयालाल के शव का बुधवार को उदयपुर के अशोक नगर श्मशान घाट में बडी संख्या में लोगों की मौजूदगी के बीच अंतिम संस्कार कर दिया गया। जबकि शहर में कर्फ्यू लगा हुआ है।

उदयपुर (राजस्थान)। जिले में मंगलवार को दो लोगों द्वारा धारदार हथियार से हत्या किए गए कन्हैयालाल के शव का बुधवार को उदयपुर के अशोक नगर श्मशान घाट में बडी संख्या में लोगों की मौजूदगी के बीच अंतिम संस्कार कर दिया गया। जबकि शहर में कर्फ्यू लगा हुआ है। अंतिम संस्कार के बाद श्मशान घाट के अंदर ‘मोदी मोदी’ के नारे लगे। अंतिम संस्कार के दौरान कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए भारी पुलिस बल की तैनाती की गई थी।

इसे भी पढ़ें: करतारपुर गलियारा धार्मिक स्वतंत्रता के प्रति पाकिस्तान की प्रतिबद्धता को दिखाता है: बाजवा

हालांकि, अंतिम संस्कार का जुलूस शांतिपूर्ण तरीके से निकाला गया। कन्हैया लाल की अंतिम यात्रा सेक्टर 14 स्थित उनके आवास से शुरू हुई जो अशोक नगर श्मशान घाट पहुंची। अंतिम संस्कार में बडी संख्या में लोग शामिल हुए। वे मोटरसाइकिल और कारों से श्मशान घाट पहुंचे। इनमें से कुछ ने आरोपियों को मौत की सजा की मांग करते हुए नारे लगाये।

इसे भी पढ़ें: सिनेमाघरों में धमाका कर रही है कमल हासन की फिल्म विक्रम, अब डिज़्नी प्लस हॉटस्टार पर देगी दस्तक

अंतिम संस्कार में शामिल कुल लोगों के हाथ में भगवा झंडे भी थे। चिता को अग्नि के हवाले करते ही लोगो ने ‘‘कन्हैया लाल अमर रहे’’ और अन्य नारे लगाये। कन्हैया के रिश्तेदार श्मशान घाट पर रोते-बिलखते नजर आए। मुखाग्नि देने के बाद लोगों के एक समूह ने कन्हैया लाल के समर्थन में नारेबाजी की। गौरतलब है कि मंगलवार को पेशे से दर्जी कन्हैयाल लाल की उनके दुकान में ही दो लोगों ने धारदार हथियार से हत्या कर दी थी। हत्यारों ने यह कहते हुए ऑनलाइन वीडियो पोस्ट किया कि उन्होंने इस्लाम का अपमान करने के लिये उनका ‘सिर कलम’’ किया है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़