महाराष्ट्र के साथ विवाद के बीच बोले कर्नाटक CM, हम अपनी सीमाओं और अपने लोगों की रक्षा करेंगे

Basavaraj Bommai
ANI
अंकित सिंह । Nov 25, 2022 3:32PM
अपने बयान में कर्नाटक के मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर कोई ऐसा कर रहा है तो मैं इसकी निंदा करता हूं और महाराष्ट्र सरकार से तत्काल कार्रवाई करने और इसे रोकने का आग्रह करता हूं। उन्होंने कहा कि यह राज्यों के बीच एक बड़ा विभाजन लाएगा।

महाराष्ट्र और कर्नाटक के बीच सीमा विवाद लगातार जारी है। इन सबके बीच महाराष्ट्र में विरोध प्रदर्शन की भी खबर है। वहीं, आज कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने एक बार फिर से बड़ा बयान दिया है। बसवराज बोम्मई ने साफ तौर पर कहा है कि भारत राज्यों का संघ है और हर राज्य का अपना अधिकार है। इसके साथ ही उन्होंने साफ तौर पर कहा है कि हम अपनी सीमा और लोगों की रक्षा करने के लिए पूरी तरीके से प्रतिबद्ध हैं। महाराष्ट्र में विरोध पर कर्नाटक के मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत राज्यों का संघ है। हर राज्य का अपना अधिकार है। कानून बहुत स्पष्ट है और यह संबंधित सरकारों का कर्तव्य है कि वे शांति, कानून और व्यवस्था बनाए रखें और देखें कि राज्यों में शांति और अमन-चैन है।

इसे भी पढ़ें: महाभारत जैसी लड़ाई लड़ने को तैयार उद्धव सेना, संजय राउत बोले- महाराष्ट्र की 1 इंच जमीन भी किसी को देंगे

अपने बयान में कर्नाटक के मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर कोई ऐसा कर रहा है तो मैं इसकी निंदा करता हूं और महाराष्ट्र सरकार से तत्काल कार्रवाई करने और इसे रोकने का आग्रह करता हूं। उन्होंने कहा कि यह राज्यों के बीच एक बड़ा विभाजन लाएगा। इसलिए महाराष्ट्र सरकार को तेजी से कार्रवाई करनी चाहिए। हम कानून का पालन करने वाले लोग हैं और हम अपने अधिकारों के भीतर हैं। उन्होंने आगे कहा कि महाराष्ट्र ने 2004 में केस किया और हम कानूनी लड़ाई लड़ रहे हैं और भविष्य में भी कानूनी लड़ाई लड़ेंगे। हमें विश्वास है। हम अपनी सीमाओं, अपने लोगों और सभी की रक्षा करेंगे। इससे पहले बसवराज बोम्मई ने सीमा विवाद के संबंध में महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर निशाना साधते हुए इस मुद्दे पर उनके बयान को भड़काऊ करार दिया था। 

इसे भी पढ़ें: शिवाजी महाराज पर टिप्पणी को लेकर उद्धव ने महाराष्ट्र के राज्यपाल को हटाने की मांग की

फडणवीस ने कहा था कि महाराष्ट्र का कोई गांव कर्नाटक में नहीं जाएगा! कर्नाटक में बेलगाम-कारवार-निपानी सहित मराठी भाषी गांवों को वापस पाने के लिए राज्य सरकार उच्चतम न्यायालय में मजबूती से अपना पक्ष रखेगी!’’ बोम्मई ने जवाबी हमला करते इसे भड़काऊ बयान करार दिया। उन्होंने कहा, उनका (फडणवीस) सपना कभी पूरा नहीं होगा। हमारी सरकार हमारे राज्य की भूमि, जल और सीमाओं की रक्षा के लिए कटिबद्ध है। 

अन्य न्यूज़