कर्नाटक के सीएम ने केंद्र से मांगी 1,471 टन ऑक्सीजन और रेमडेसिविर की दो लाख खुराकें

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 23, 2021   18:35
कर्नाटक के सीएम ने केंद्र से मांगी 1,471 टन ऑक्सीजन और रेमडेसिविर की दो लाख खुराकें

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने प्रधानमंत्री से 1,471 टन ऑक्सीजन व रेमडेसिविर की दो लाख खुराकों का आग्रह किया है।मुख्यमंत्री कार्यालय ने एक बयान में कहा, राज्य को 25 अप्रैल से 1,142 टन तथा 30 अप्रैल के बाद से 1,471 टन ऑक्सीजन की आवश्यकता है।

बेंगलुरू। कोविड​​-19 मामलों में तेजी से वृद्धि के बीच कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने शुक्रवार को 1,471 टन ऑक्सीजन और रेमडेसिविर की दो लाख खुराकों की आपूर्ति करने का केंद्र से आग्रह किया। येदियुरप्पा ने उन 10 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान यह अनुरोध किया जहां कोविड मामलों में तेजी से वृद्धि हो रही है। कर्नाटक में बृहस्पतिवार को कोविड के 25,795 नए मामले सामने आए थे और 123 मरीजों की मौत हो गयी थी। मुख्यमंत्री कार्यालय ने एक बयान में कहा, राज्य को 25 अप्रैल से 1,142 टन तथा 30 अप्रैल के बाद से 1,471 टन ऑक्सीजन की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री से ऑक्सीजन की कमी को दूर करने और 1,471 टन ऑक्सीजन तत्काल आवंटित करने की अपील की।’’

इसे भी पढ़ें: फ्रिज का पानी छोड़ अब लोगों को भा रहा मटके का पानी! कोरोना वायरस है बड़ा कारण

येदियुरप्पा ने कहा कि बृहस्पतिवार को 500 टन ऑक्सीजन का इस्तेमाल किया गया था जबकि केंद्र ने केवल 300 टन ऑक्सीजन की आपूर्ति की थी। उन्होंने कहा कि यदि यही स्थिति बनी रहती है, तो कई स्वास्थ्य केंद्रों को बंद करने की नौबत आ सकती है। येदियुरप्पा ने कहा कि संक्रमण के मामलों में तेजी से रेमडेसिविर दवाई की मांग भी बढ़ गई है। बयान में कहा गया है, हालांकि राज्य सतर्क है कि रेमडिसिविर इंजेक्शन की कोई कमी नहीं हो। मुख्यमंत्री ने अगले 10 दिनों में रेमडेसिविर की दो लाख खुराक की आपूर्ति के लिए प्रधानमंत्री से अपील की।’’

इसे भी पढ़ें: भारत में क्यों हो रही ऑक्सीजन की कमी? जानिए इसका बड़ा कारण

कोविड की मौजूदा स्थिति से निपटने के लिए राज्य सरकार द्वारा किए गए उपायों का जिक्र करते हुए येदियुरप्पा ने कहा कि सरकार ने निजी अस्पतालों को 50 प्रतिशत बेड कोरोना वायरस मरीजों के लिए सुरक्षित रखने का आदेश दिया है। उन्होंने राज्य में बढ़ते कोविड मामलों को रोकने के लिए उठाए गए कड़े कदमों से भी प्रधानमंत्री को अवगत कराया। मुख्यमंत्री कार्यालय के अनुसार, प्रधानमंत्री ने स्वास्थ्य प्रणाली के सुधारों पर जोर दिया। बयान में कहा गया है, मोदी ने सलाह दी कि ऑक्सीजन का सभी राज्यों में ऑडिट किया जाना चाहिए ताकि इसका दुरुपयोग रोका जा सके। उन्होंने यह भी सुझाव दिया कि राज्य सरकारों को ऑक्सीजन टैंकरों की सुचारू आवाजाही की सुविधा प्रदान करनी चाहिए।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।