खट्टर ने अमरिंदर पर साधा निशाना, कहा- निर्दोष किसानों को भड़काना बंद करें

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 26, 2020   18:34
  • Like
खट्टर ने अमरिंदर पर साधा निशाना, कहा- निर्दोष किसानों को भड़काना बंद करें

अमरिंदर सिंह ने दिल्ली जाने से किसानों को रोकने के लिये हरियाणा सरकार पर हमला करते हुए कहा था कि किसानों के खिलाफ “बर्बर बल प्रयोग पूरी तरह से अलोकतांत्रिक और असंवैधानिक है।

चंडीगढ़। दिल्ली जा रहे किसानों को हरियाणा में भाजपा के नेतृत्व वाली प्रदेश सरकार द्वारा रोके जाने पर पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह द्वारा बृहस्पतिवार को निशाना साधे जाने के कुछ समय बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कड़े शब्दों में उनसे कहा कि “निर्दोष किसानों को भड़काना” बंद करें। खट्टर ने सिंह से कहा कि वह किसानों को गुमराह करने से बचें। उन्होंने याद दिलाया कि वह पहले ही संकल्प व्यक्त कर चुके हैं कि अगर न्यूनतम समर्थन मूल्य को कभी भी खत्म किया गया तो वह राजनीति छोड़ देंगे। खट्टर ने ट्वीट किया, “कैप्टन अमरिंदर जी, मैंने पहले भी कहा है और मैं फिर कह रहा हूं कि एमएसपी में अगर कोई गड़बड़ी हुई तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा—इसलिये, कृपया निर्दोष किसानों को भड़काना बंद कीजिए।”

खट्टर ने इस मुद्दे पर बीते तीन दिनों से पंजाब के मुख्यमंत्री पर “सिर्फ ट्वीट करने और उनके साथ वार्ता से भागने” का आरोप भी लगाया। खट्टर ने एक अन्य ट्वीट में कहा, “मैं बीते तीन दिनों से आपसे संपर्क की कोशिश कर रहा हूं लेकिन, दुखद है, आपने संपर्क नहीं करने का फैसला किया है—क्या किसानों के मुद्दों के लिये आप इतने ही गंभीर हैं? आप सिर्फ ट्वीट कर रहे हैं और बातचीत से बच रहे हैं, क्यों?” सिंह पर निशाना साधते हुए भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता ने उन्हें कहा, “आपके झूठ, धोखे और मिथ्या प्रचार का समय खत्म हुआ—अब लोगों को आपका असली चेहरा देखने दीजिए।” 

इसे भी पढ़ें: किसानों के दिल्ली चलो मार्च को देखते हुए डीएमआरसी की सेवाएं पड़ोसी शहरों से स्थगित

खट्टर ने सिंह से कहा, “कोरोना महामारी के दौरान लोगों की जिंदगी खतरे में डालने से रोकिये। मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि लोगों की जिंदगी से मत खेलिये- कम से कम महामारी के दौरान सस्ती राजनीति से बचिए।” इससे पहले दिन में अमरिंदर सिंह ने दिल्ली जाने से किसानों को रोकने के लिये हरियाणा सरकार पर हमला करते हुए कहा था कि किसानों के खिलाफ “बर्बर बल प्रयोग पूरी तरह से अलोकतांत्रिक और असंवैधानिक है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


दिल्ली के आईटीओ में एक इमारत में लगी आग, सुरक्षा गार्ड को बचाया गया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 22, 2021   15:31
  • Like
दिल्ली के आईटीओ में एक इमारत में लगी आग, सुरक्षा गार्ड को बचाया गया

दिल्ली के आईटीओ में एक बहुमंजिला इमारत के दूसरे तल में शुक्रवार सुबह आग लग गई। दमकल अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि घटना में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।‘

नयी दिल्ली। दिल्ली के आईटीओ में एक बहुमंजिला इमारत के दूसरे तल में शुक्रवार सुबह आग लग गई। दमकल अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि घटना में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। ‘इंस्टिट्यूशन ऑफ इंजीनियर्स’ की इमारत के टैरेस पर एक सुरक्षा गार्ड फंस गया था, उसे दमकल कर्मियों ने बाहर निकाल लिया।

इसे भी पढ़ें: मिस्र में बम विस्फोट में एक सुरक्षाकर्मी की मौत, तीन घायल; IAS ने ली हमले की जिम्मेदारी

दिल्ली दमकल विभाग के निदेशक अतुल गर्ग ने कहा, ‘‘ हमें आईटीओ में‘इंस्टिट्यूशन ऑफ इंजीनियर्स’ की इमारत में एक ‘मीटर बोर्ड’ में आग लगने की जानकारी सुबह साढ़े आठ मिली थी। शुरुआत में दमकल विभाग की तीन गाड़ियों को मौके पर भेजा गया, बाद में नौ गाड़ियों को भेजा गया और एक घंटे में आग पर काबू पाया गया।’’ अधिकारियों ने बताया कि इमारत में धुंआ भर गया था और एक सुरक्षा गार्ड टैरेस में फंस गया था उसे दमकल कर्मियों ने बाहर निकाल लिया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


देश के शिल्पकारों का एंप्लॉयमेंट एक्सचेंज साबित हो रहा है हुनर हाट: मुख्तार अब्बास नकवी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 22, 2021   15:21
  • Like
देश के शिल्पकारों का  एंप्लॉयमेंट एक्सचेंज  साबित हो रहा है हुनर हाट: मुख्तार अब्बास नकवी

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हुनर हाट को सरकारी खरीद फरोख्त के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले जेम पोर्टल पर भी डाला गया है। यह इसकी प्रामाणिकता और प्रसिद्धि को जाहिर करता है। हुनर हाट अब ई-प्लेटफॉर्म पर भी उपलब्ध है।

लखनऊ। केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने शुक्रवार को कहा कि हुनर हाट देश के दस्तकारों और कारीगरों का एंप्लॉयमेंट एक्सचेंज साबित हो रहा है और इस आयोजन के जरिए अब तक पांच लाख से ज्यादा कारीगरों को रोजगार के अवसर दिए गए हैं। नकवी ने अपने मंत्रालय द्वारा यहां शनिवार को शुरू हो रहे 15 दिवसीय हुनर हाट कार्यक्रम के बारे में जानकारी देते हुए प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि देश के शिल्पकारों को एक बेहतरीन मंच देने वाला यह कार्यक्रम उनके लिए एंप्लॉयमेंट एक्सचेंज साबित हो रहा है। उन्होंने बताया कि अब तक 500000 से ज्यादा दस्तकारों और शिल्प कारों को हुनर हाट के जरिए रोजगार के अवसर दिए गए हैं। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हुनर हाट को सरकारी खरीद फरोख्त के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले जेम पोर्टल पर भी डाला गया है। यह इसकी प्रामाणिकता और प्रसिद्धि को जाहिर करता है। हुनर हाट अब ई-प्लेटफॉर्म पर भी उपलब्ध है।

नवाबों के शहर लखनऊ के अवध शिल्पग्राम में आयोजित होने वाली इस 24वीं हुनर हाट में देश के 31 राज्यों के 500 से ज्यादा हुनरमंद लोग अपने उत्पादों की प्रदर्शनी और बिक्री करेंगे। वोकल फॉर लोकल थीम पर आयोजित होने वाले इस कार्यक्रम का औपचारिक उद्घाटन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करेंगे। नकवी ने कहा कि हुनर हाट में आंध्र प्रदेश, असम, बिहार, चंडीगढ़, छत्तीसगढ़, दिल्ली, गोवा, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, झारखण्ड, कर्नाटक, केरल, लद्दाख, मध्य प्रदेश, मणिपुर, मेघालय, नगालैंड, ओड़िशा, पुडुचेरी, पंजाब, राजस्थान, सिक्किम, तमिलनाडु, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल सहित 31 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों से लगभग 500 हुनर के उस्ताद शामिल हो रहे हैं। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि लखनऊ के हुनर हाट में देश के दस्तकार/शिल्पकार, अजरख, ऍप्लिक, आर्ट मेटल वेयर, बाघ प्रिंट, बाटिक, बनारसी साड़ी, बंधेज, बस्तर की जड़ी-बूटियां, ब्लैक पॉटरी, ब्लॉक प्रिंट, बेंत-बांस के उत्पाद, चिकनकारी, कॉपर बेल, ड्राई फ्लावर्स, खादी के उत्पाद, कोटा सिल्क, लाख की चूड़ियाँ, लेदर, पश्मीना शाल, रामपुरी वायलिन, लकड़ी-आयरन के खिलौने, कांठा एम्ब्रोइडरी, ब्रास-पीतल के प्रोडक्ट, क्रिस्टल ग्लास आइटम, चन्दन की कलाकृतियां आदि के स्वदेशी हस्तनिर्मित शानदार उत्पाद प्रदर्शन एवं बिक्री के लिए ले कर आये हैं। 

इसे भी पढ़ें: मुख्तार अब्बास नकवी का बयान, सभी हज यात्रियों को लगेगा कोरोना का टीका

नकवी ने कहा कि लखनऊ के हुनर हाट में आने वाले लोग देश के पारंम्परिक लजीज़ पकवानों का लुत्फ़ भी उठाएंगे, वहीँ देश के जाने-माने कलाकारों द्वारा हर दिन प्रस्तुत किये जाने वाले विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम आकर्षण का केंद्र होंगे। हुनर हाट में प्रतिदिन सांयकाल जाने-माने कलाकारों द्वारा आत्मनिर्भर भारत थीम पर गीत-संगीत के कार्यक्रम होंगे। इन कार्यक्रमों में प्रसिद्द कलाकार जैसे कैलाश खेर, विनोद राठौर, शिबानी कश्यप, भूपेंद्र भुप्पी, मिर्ज़ा सिस्टर्स, प्रेम भाटिया; हमसर हयात ग्रुप अपने कार्यक्रम प्रस्तुत करेंगे। अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री ने कहा कि आने वाले दिनों में हुनर हाट का आयोजन मैसूर, जयपुर, चंडीगढ़, इंदौर, मुंबई, हैदराबाद, नई दिल्ली, रांची, कोटा, सूरत/अहमदाबाद, कोच्चि, पुडुचेरी आदि स्थानों पर भी होगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


बंगाल में 22,887 अतिरिक्त मतदान केंद्र होंगे, CEC सुनील अरोड़ा बोले- जल्द होगा तारीखों का ऐलान

  •  अनुराग गुप्ता
  •  जनवरी 22, 2021   15:19
  • Like
बंगाल में 22,887 अतिरिक्त मतदान केंद्र होंगे, CEC सुनील अरोड़ा बोले- जल्द होगा तारीखों का ऐलान

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बताया कि पश्चिम बंगाल में 78,903 मतदान केंद्र थे। अतिरिक्त मतदान केंद्र 22,887 होंगे। जिसके बाद मतदान केंद्रों की संख्या बढ़कर 1,01,790 हो जाएगी।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले चुनाव आयोग के अधिकारियों ने राज्य के नेताओं और उच्च अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक के बाद मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बताया कि राजनीतिक दलों के साथ चर्चा के बाद ज्यादातर ने कहा कि चुनावों में बड़ी संख्या में सीएपीएफ की तैनाती की जाए और पोलिंग स्टेशन पर वीडियोग्राफी हो ताकि सुरक्षित वोटिंग हो सके। उन्होंने सोशल मीडिया के दुरुपयोग को रोकने के लिए प्रभावी कदम उठाने के लिए भी कहा है। 

इसे भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल के ममता बनर्जी मंत्रिमंडल से एक और नेता ने दिया इस्तीफा 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, मुख्य चुनाव आयुक्त ने बताया कि पश्चिम बंगाल में 78,903 मतदान केंद्र थे। अतिरिक्त मतदान केंद्र 22,887 होंगे। जिसके बाद मतदान केंद्रों की संख्या बढ़कर 1,01,790 हो जाएगी। इस बार सभी मतदान केंद्र ग्राउंड फ्लोर पर होंगे। यह दिव्यांगजनों को ध्यान में रखकर और मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए किया गया है।

चुनाव आयोग के अधिकारियों ने बताया कि राज्य में शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव हो इसके लिए बैठक में चर्चा हुई। मिली जानकारी के मुताबिक जिस राज्य में चुनाव होगा वहां पर उस राज्य से संबंधित अधिकारियों की तैनाती नहीं की जाएगी। 

इसे भी पढ़ें: बंगाल में शांतिपूर्ण चुनाव कराने के लिए निर्वाचन आयोग बढ़ा सकता है सुरक्षाकर्मियों की तादाद 

जल्द होगा तारीखों का ऐलान

पश्चिम बंगाल समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। चुनाव की तारीखों के संबंध में मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बताया कि जल्द ही एक साथ चुनाव की तारीखों का ऐलान किया जाएगा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept