शॉर्ट्स पहनकर शख्स पहुंचा बैंक, SBI ने कहा- फुल पैंट पहनकर आओ तभी मिलेगी बैंक में एंट्री

शॉर्ट्स पहनकर शख्स पहुंचा बैंक, SBI ने कहा- फुल पैंट पहनकर आओ तभी मिलेगी बैंक में एंट्री
प्रतिरूप फोटो

आशीष को बैंक में प्रवेश करने से मना कर दिया गया क्योंकि उन्होंने शॉर्ट्स पहना हुआ था और बैंक स्टाफ ने उससे जब तक वह फुल पैंट पहनकर नहीं आएगा तब तक उसे बैंक में एंट्री नहीं मिलेगी क्योंकि ब्रांच ग्राहकों से सभ्यता बनाए रखने की अपेक्षा करती है।

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) की एक ब्रांच ने एक शख्स को बैंक के अंदर आने से इसलिए मना कर दिया क्योंकि वह शॉर्ट्स पहन कर आया था। कोलकाता के रहने वाले आशीष ने बैंक की इस हरकरत को लेकर ट्विटर पर शिकायत की है और अब उनका पोस्ट काफी वायरल हो रहा है। आशीष को बैंक में प्रवेश करने से मना कर दिया गया क्योंकि उन्होंने शॉर्ट्स पहना हुआ था और बैंक स्टाफ ने उससे जब तक वह फुल पैंट पहनकर नहीं आएगा तब तक उसे बैंक में एंट्री नहीं मिलेगी क्योंकि ब्रांच ग्राहकों से सभ्यता बनाए रखने की अपेक्षा करती है।  

 

आशीष ने अपनी पोस्ट में लिखा, "अरे @TheOfficialSBI आज शॉर्ट्स पहनकर आपकी एक ब्रांच में गया, वहां कहा गया कि मुझे फुल पैंट पहनकर वापस आने की जरूरत है क्योंकि ब्रांच ग्राहकों से शालीनता बनाए रखने की अपेक्षा करता है। उन्होंने आगे लिखा कि, "क्या इस बारे में कोई आधिकारिक पॉलिसी है कि ग्राहक क्या पहन सकता है और क्या नहीं?" आशीष ने यह भी बताया कि इसी तरह की एक घटना साल 2017 में भी पुणे में हुई थी, जिसमें बरमूडा शॉर्ट्स पहने हुए एक व्यक्ति को बैंक में प्रवेश करने से रोक दिया था।

बता दें कि, आशीष के16 नवंबर को ट्विटर पर पोस्ट किए जाने के बाद यह पोस्ट करीब 2,700 लाइक्स के साथ वायरल हो गई। पोस्ट पर नेटिज़न्स के भी रिएक्शन आए। कुछ लोग समर्थन में सामने आए, जबकि अन्य ने एसबीआई के फैसले का समर्थन किया। एक यूजर ने कहा कि, 'अपना खाता बंद करो और कोई दूसरा बैंक ढूंढो। एक अन्य यूजर ने कमेंट किया, आपक फॉर्मल में जाना चाहिए, क्योंकि यह बाकी ग्राहकों के लिए अजीब होगा।" 

 

एसबीआई ने भी व्यक्ति की पोस्ट पर टिप्पणी की और स्पष्ट किया कि बैंक में प्रवेश करने के लिए कोई नीति या निर्धारित ड्रेस कोड नहीं है। उन्होंने उसे शाखा का नाम साझा करने के लिए भी कहा।आशीष ने पूरे मामले के बारे में एक अपडेट भी दिया और नेटिज़न्स को सूचित किया कि क्षेत्र के सीएम एडमिन जॉय चक्रवर्ती ने उनके घर का दौरा किया और व्यक्तिगत रूप से इस मुद्दे को हल किया।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...