नकली दवाओं की जांच के लिए बंगाल में स्थापित होगी प्रयोगशाला: ममता बनर्जी

Mamta Banerjee
बनर्जी ने दावा किया कि केंद्र सरकार को नकली दवाओं की जांच करनी चाहिए, लेकिन वह ऐसा नहीं कर रही है।

कोलकाता|  केंद्र सरकार द्वारा पश्चिम बंगाल के एक अस्पताल में वितरण के लिए बांग्लादेशी दवाएं भेजने पर उपजे विवाद के बीच मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बृहस्पतिवार को कहा कि उनकी सरकार ने नकली दवाओं की जांच के लिए एक प्रयोगशाला स्थापित करने का निर्णय लिया है।

बनर्जी ने दावा किया कि केंद्र सरकार को नकली दवाओं की जांच करनी चाहिए, लेकिन वह ऐसा नहीं कर रही है।

मुख्यमंत्री ने राज्य सचिवालय में कहा, “बाजार में नकली दवाओं की आमद बढ़ रही है। इसकी जांच करना दिल्ली (केंद्र सरकार) का कर्तव्य है, लेकिन वे अपना काम नहीं कर रहे हैं। इसलिए मैंने दवाओं की एक प्रयोगशाला और नकली दवाओं की जांच के लिए दो योजनाओं पर काम करने का निर्णय लिया है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़