पश्चिम बंगाल में ‘रेड जोन’ में लॉकडाउन तोड़ने वालों ने पुलिस पर किया हमला, दो घायल

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 29, 2020   09:56
पश्चिम बंगाल में ‘रेड जोन’ में लॉकडाउन तोड़ने वालों ने पुलिस पर किया हमला, दो घायल

पुलिस का गश्त दल टिकियापाड़ा के बेलिरुअस इलाके में पहुंचा। पुलिस को सूचना मिली थी कि अल्पसंख्यक बहुल इस इलाके में लॉकडाउन के नियमों एवं सामाजिक मेल-जोल से दूरी के नियमों का उल्लंघन करते हुये लोग बड़ी तादाद में स्थानीय बाजार में जमा हैं। जैसे ही पुलिस ने उन्हें घर लौटने के लिये कहा, भीड़ ने उन पर पथराव किया।

कोलकाता। प​श्चिम बंगाल में हावड़ा जिले के टिकियापाड़ा में कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिये लागू लॉकडाउन का पालन सुनिश्चित करा रही पुलिस पर मंगलवार को भीड़ ने हमला कर दिया जिसमें दो पुलिसकर्मी घायल हो गए। टिकियापाड़ा कोरोना वायरस संक्रमण के लिहाज से रेड जोन में शामिल है। इस घटना को लेकर राज्य में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और विपक्षी भाजपा में जुबानी जंग भी शुरू हो गयी है। तृणमूल कांग्रेस ने घटना में शामिल लोगों पर कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है जबकि भाजपा ने दावा किया कि राज्य सरकार की तुष्टिकरण की नीति की वजह से यह घटना हुई। 

इसे भी पढ़ें: देश में 30 हजार के करीब पहुंचा कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा, अब तक 937 लोगों की मौत

पुलिस ने बताया कि यह घटना शाम की है, जब पुलिस का गश्त दल टिकियापाड़ा के बेलिरुअस इलाके में पहुंचा। इससे पहले पुलिस को सूचना मिली थी कि अल्पसंख्यक बहुल इस इलाके में लॉकडाउन के नियमों एवं सामाजिक मेल-जोल से दूरी के नियमों का उल्लंघन करते हुये लोग बड़ी तादाद में स्थानीय बाजार में जमा हैं। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया, जैसे ही पुलिस ने उन्हें घर लौटने के लिये कहा, भीड़ ने उन पर पथराव किया और उनकी पिटाई कर दी। घटना में दो पुलिस वाहन भी क्षतिग्रस्त हुये हैं। टेलीविजन पर प्रसारित वीडियो क्लिप में दिख रहा है कि जान बचाने के लिए पुलिसकर्मी भाग रहे हैं और लोग उन पर पत्थर फेंक रहे हैं और बदसलूकी कर रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें: ओडिशा में कोविड-19 के 7 नए मामले, अब तक 118 व्यक्ति संक्रमित

पुलिस ने बताया कि घायल दो पुलिसकर्मियों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बाद में त्वरित कार्य बल (आरएएफ) समेत बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी स्थिति को नियंत्रित करने के लिये मौके पर पहुंच गये। उल्लेखनीय है कि हावड़ा पश्चिम बंगाल के उन चार जिलों में है जहां पर रेड जोन घोषित किया गया है और 75 फीसदी कोविड-19 के मामले यहीं से आए हैं। अन्य तीन जिले कोलकाता, पूर्वी मिदनापुर और 24 उत्तर परगना है। हावड़ा जिले के तृणमूल कांग्रेस प्रभारी और वन मंत्री राजीव बनर्जी ने पुलिस पर हमले की निंदा की और कहा कि दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की जाएंगी। वहीं पश्चिम बंगाल भाजपा ने ट्वीट किया ‘‘ पश्चिम बंगाल के हावड़ा जिले के टिकियापाड़ा में लॉकडाउन का अनुपालन कराने गई पुलिस पर भीड़ ने पथराव किया। ममता बनर्जी की तृष्टिकरण को धन्यवाद। उनके विश्वस्त मतदाता अब पुलिस पर पथराव कर रहे हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।