वाजपेयी, चटर्जी, अनंत कुमार को श्रद्धांजलि देने के बाद लोकसभा की बैठक स्थगित

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Dec 11 2018 12:24PM
वाजपेयी, चटर्जी, अनंत कुमार को श्रद्धांजलि देने के बाद लोकसभा की बैठक स्थगित
Image Source: Google

सभा ने पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी, पूर्व लोकसभा अध्यक्ष चटर्जी और पूर्व केंद्रीय मंत्री कुमार के साथ ही तीनों दिवंगत सदस्यों के सम्मान में कुछ पल का मौन रखा। जिसके बाद बैठक को दिनभर के लिए स्थगित कर दिया गया।

नयी दिल्ली। संसद के शीतकालीन सत्र के पहले दिन पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी, पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सोमनाथ चटर्जी और केंद्रीय मंत्री दिवंगत अनंत कुमार तथा तीन अन्य सदस्यों को श्रद्धांजलि देने के बाद लोकसभा की बैठक मंगलवार को दिनभर के लिए स्थगित कर दी गयी। सदन की बैठक पूर्वाह्न 11 बजे राष्ट्रगान के साथ शुरू हुई जिसके बाद लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने वाजपेयी, चटर्जी और कुमार के निधन का उल्लेख किया। उन्होंने भाजपा सांसद भोला सिंह, कांग्रेस सदस्य एम आई शानवास तथा पार्टी सांसद मोहम्मद असरारुल हक के निधन की भी जानकारी सदन को दी।

यह भी पढ़ें: शुरुआती रुझानों में BJP की हालत पतली, उतरा हुआ चेहरा लेकर संसद पहुंचे मोदी

 
सभा ने पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी, पूर्व लोकसभा अध्यक्ष चटर्जी और पूर्व केंद्रीय मंत्री कुमार के साथ ही तीनों दिवंगत सदस्यों के सम्मान में कुछ पल का मौन रखा। जिसके बाद बैठक को दिनभर के लिए स्थगित कर दिया गया। इससे पहले महाजन ने वाजपेयी को श्रद्धांजलि देते हुए सदन में एक शोक प्रस्ताव रखा और उन्हें ‘‘संसद के महानतम सदस्यों में से एक’’ की संज्ञा दी। लोकसभा में पारित यह प्रस्ताव वाजपेयी के परिजनों को प्रेषित किया जाएगा। वाजपेयी के सम्मान में शोक प्रस्ताव पढ़ते हुए अध्यक्ष महाजन कुछ क्षण के लिए भावुक नजर आईं।


 
सदन में इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत सत्ता पक्ष-विपक्ष के अनेक वरिष्ठ नेता उपस्थित थे। शीतकालीन सत्र का पहला दिन होने के चलते प्रधानमंत्री मोदी सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले विपक्ष की अग्रिम पंक्ति की ओर गये और उन्होंने सोनिया गांधी, सदन में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवगौड़ा, सपा नेता मुलायम सिंह यादव, तृणमूल कांग्रेस के सुदीप बंदोपाध्याय और बीजद के बी महताब से कुशलक्षेम जाना। इस दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सदन में नहीं थे। वह कुछ देर बाद पहुंचे।
 
 


इससे पहले विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी विपक्षी दलों के नेताओं का अभिवादन किया। सदन में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह और भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी आदि सदस्य भी उपस्थित थे। उल्लेखनीय है कि संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसंबर से शुरू होकर आठ जनवरी तक चलेगा। सत्र ऐसे समय में शुरू हुआ है जब पांच राज्यों के चुनाव परिणाम सामने आ रहे हैं। ताजा रूझानों के अनुसार छत्तीसगढ़, राजस्थान में विपक्षी कांग्रेस का प्रदर्शन अपेक्षाकृत अच्छा है, वहीं मध्य प्रदेश में भी उसका प्रदर्शन पहले से अच्छा नजर आ रहा है। तीनों ही राज्यों में अब तक भाजपा सत्ता में थी। लोकसभा में कांग्रेस के कुछ सांसदों को पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी से गर्मजोशी से हाथ मिलाते हुए देखा गया। जाहिर तौर पर वे कांग्रेस के प्रदर्शन पर गांधी को बधाई दे रहे थे।
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video