लोकतंत्र के कुंभ की तरह होते हैं लोकसभा चुनाव: प्रधानमंत्री

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 24, 2019   12:02
लोकतंत्र के कुंभ की तरह होते हैं लोकसभा चुनाव: प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री के कार्यालय द्वारा उनके हवाले से जारी बयान में कहा गया, ‘‘कुंभ मेले की तरह भारत के संसदीय चुनाव अपनी व्यापकता और पूरी तरह निष्पक्षता के लिए दुनिया के लिए प्रेरणास्रोत बन सकते हैं।

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनावों को ‘लोकतंत्र का कुंभ’ करार दिया और कहा कि जिस निष्पक्ष तरीके से चुनाव होते हैं, ये दुनिया के लिए प्रेरणास्रोत बन सकते हैं। मोदी ने कहा कि दुनियाभर के लोगों को चुनाव देखने के लिए भारत आना चाहिए। वह कुंभ मेले में शामिल हुए 188 विदेशी प्रतिनिधियों को सम्मानित करने के अवसर पर समारोह को संबोधित कर रहे थे।

प्रधानमंत्री के कार्यालय द्वारा उनके हवाले से जारी बयान में कहा गया, ‘‘कुंभ मेले की तरह भारत के संसदीय चुनाव अपनी व्यापकता और पूरी तरह निष्पक्षता के लिए दुनिया के लिए प्रेरणास्रोत बन सकते हैं। दुनियाभर के लोगों को भारत में संसदीय चुनावों की कवायद देखने के लिए भी आना चाहिए।’’ उन्होंने कहा, ‘‘कुंभ आध्यात्मिक नेताओं और समाज सुधारकों के बीच विचार-विमर्श का मंच बन गया है ताकि भविष्य का खाका तैयार किया जा सके और प्रगति पर निगरानी रखी जा सके।’’ 

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के शब्दों को कसौटी पर तौलने का वक्त आ गया: मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा कि कुंभ मेले में आधुनिकता और प्रौद्योगिकी को आस्था, अध्यात्म और सांस्कृतिक चेतनता के साथ जोड़ने का प्रयास है। इस मौके पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज भी उपस्थित थीं। प्रधानमंत्री रविवार को प्रयागराज कुंभ मेले में पहुंचेंगे और स्वच्छ कुंभ, स्वच्छ आभार कार्यक्रम में भाग लेंगे जिसका आयोजन पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय कर रहा है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।