उज्जैन में महाकाल भक्तों को 6 दिसंबर से गर्भगृह में प्रवेश की दी अनुमति

उज्जैन में महाकाल भक्तों को 6 दिसंबर से गर्भगृह में प्रवेश की दी अनुमति

मंदिर की प्रबंधन समिति ने गुरुवार को हुई बैठक में दुनियाभर के श्रद्धालुओं की मांग को ध्यान में रखते हुए यह फैसला लिया।

भोपाल। मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले से भगवान महाकाल के भक्तों के लिए एक खुशखबरी है। मंदिर के गर्भगृह में प्रवेश पर दो साल से अधिक समय के प्रतिबंध के बाद छह दिसंबर से श्रद्धालुओं को मंदिर के उस स्थान में प्रवेश की अनुमति दी जाएगी।

इसे भी पढ़ें:MP के मंत्री के बिगड़े बोल, सवर्ण महिलाओं पर दिया विवादित बयान 

जानकारी के मुताबिक मंदिर की प्रबंधन समिति ने गुरुवार को हुई बैठक में दुनियाभर के श्रद्धालुओं की मांग को ध्यान में रखते हुए यह फैसला लिया।

इसे भी पढ़ें:भोपाल में NSUI कार्यकर्ताओं ने किया CM निवास का घेराव, पुलिस ने की लाठीचार्ज 

वहीं निर्णय के अनुसार गर्भगृह में प्रवेश करने के इच्छुक श्रद्धालुओं को 1500 रुपये देने होंगे। एक टिकट पर दो व्यक्तियों को जाने की अनुमति होगी। कोरोना महामारी के कारण गर्भगृह में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया था।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।